300 किलोग्राम के व्यक्ति की तबीयत खराब, सेना ने घर की दीवार तोड़कर निकाला बाहर।  

पाकिस्तान के सबसे वजनी व्यक्ति को उसके इलाज के लिए लाहौर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस शख्स का वजन 330 किलोग्राम से ज्यादा है। अधिकारियों ने इस बात की सूचना दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब क्षेत्र के सादिकाबाद जिले के रहने वाले नूर हसन को अस्पताल ले जाने का काम नागरिकों के एक समूह और सैन्य बचाव दल ने मिलकर एक विशेष सैन्य हेलीकॉप्टर की सहायता से किया।
पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष जनरल कमर जावेद बाजवा ने हसन को अस्पताल ले जाने और उनके इलाज के लिए विशेष व्यवस्था की है। ज्यादा वजन होने और अन्य चिकित्सा संबंधी जटिलताओं के चलते हसन के लिए अपने आप कहीं जाना मुमकिन नहीं है। लाहौर के अस्पताल में लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के माध्यम से उसका इलाज किया जाएगा। रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है कि हसन को उनके घर से बाहर निकालने के लिए दीवार को तोडऩा पड़ा क्योंकि घर के मेन गेट से उन्हें बाहर निकालना संभव नहीं था।
मीडिया रिपोर्ट में हसन को पाकिस्तान का वजन के हिसाब से सबसे भारी व्यक्ति करार दिया गया है जबकि इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी तक नहीं की गई है। इससे पहले वर्ष 2017 में 360 किलो के पाकिस्तान के सबसे वजनदार व्यक्ति का उपचार लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के माध्यम से किया गया जिसके बाद उसका वजन घटकर 200 किलो से कम हो गया था। पाकिस्तान एंडोक्राइन सोसायटी द्वारा पिछले साल जारी एक सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक, 29 फीसदी पाकिस्तानी जनसंख्या ज्यादा वजन की शिकार है जिनमें से 51 फीसदी को मोटापे की श्रेणी में रखा गया है।