धर्म छिपाकर यूपी के मंदिर में शादी किया रांची में किया निकाह, 5 वर्ष बाद दिया तलाक

धर्म छिपाकर चरही थाना क्षेत्र के पिपरा अंसार चौक निवासी रमजान अंसारी ने उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की एक युवती से मंदिर में शादी किया। फिर रांची के इरबा लाकर उसने जबरन निकाह किया। युवती काे शबनम नाम दिया। पांच वर्ष बाद उसने युवती काे तलाक दे दिया है। पीड़िता ने चरही थाना में आराेपी युवक के विरुद्ध शिकायत दर्ज कराई है।

पुलिस ने आराेपी काे हिरासत में लिया है। पूछताछ में युवक ने युवती के आराेपाें काे स्वीकार किया है। रमजान पेशे से ट्रक चालक है। युवती की पांच वर्ष की एक बेटी और आठ महीने का बेटा है। युवती ने पुलिस काे कहा कि वह इरबा के रिजवान लाॅज में रहकर पास की एक फैक्ट्री में कार्य करती है। उसे अकेला पाकर लाॅज के कुछ लाेग भी परेशान करते हैं।

रमजान ने काराेबार करने के लिए उससे 60 हजार रुपए लिए थे। उसने महिला समिति से 60 हजार रुपए उठाकर दिए थे। प्रत्येक महीने रुपयाें का ब्याज देना होता है। वह रमजान से रुपए मांगने पिपरा आई थी। यहां रमजान ने उसकी पिटाई करा दी। उसके पास रांची जाने का भाड़ा भी नहीं था। चरही पुलिस के मदद से वह जिस बस से जा रही थी, कार से ओवरटेक उसे राेका गया और बुरी तरह मारा पीटा गया।

युवती दाेबारा चरही थाना पहुंची और न्याय की गुहार लगाई है। चरही के थाना प्रभारी दिनेश्वर प्रसाद के मुताबिक, पुलिस ने आराेपी रमजान काे हिरासत में लिया गया है। उसने पूछताछ में गुनाह कबूला है। पुलिस उन बदमाशों काे तलाश कर रही है जिन्हाेंने बस रोक कर युवती के साथ मारपीट किया। पुलिस लिखित शिकायत के आधार पर कानूनी कार्यवाही की तैयारी में है।

पीड़िता बाेली-अखिलेश बन झांसा दिया, कुंवारा बताकर शादी रचाई

पीड़िता ने चरही पुलिस काे लिखित शिकायत देकर बताया है कि मैं यूपी के आजमगढ़ की रहने वाली हूं। पांच साल पहले रमजान ने मुझे प्रेम के जाल में फंसाया, यह कहकर कि उसका नाम अखिलेश यादव है। वह झारखंड के हजारीबाग का रहने वाला है। शादी नहीं की है। वह कुंवारा है। मैं उसकी बाताें में आ गई और पांच वर्ष पहले अपने घर वालाें के विरुद्ध जाकर एक मंदिर में उससे विवाह कर ली। उसके साथ मैं झारखंड चली आई। यहां उसने रांची के इरबा में एक लाॅज में रखा। कुछ दिनाें के बाद मुझे पता चल गया था कि मेरे साथ विश्वासघात हुआ है। युवक ने धर्म छिपाकर मुझसे विवाह की। उसका असली नाम रमजान अंसारी है।