जब एक ही मेज पर बैठे दिखे मोदी सहित कई विपक्षी नेता, जब एक ही मेज पर बैठे दिखे मोदी सहित कई विपक्षी नेता..!

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को लोकसभा और राज्यसभा के सदस्यों को राष्ट्रीय राजधानी स्थित एक पांच सितारा होटल में रात का भोजन पार्टी का आयोजन किया। इस भोजन पर पार्टी के लिए पीएम मोदी की तरफ दोनों सदनों के तकरीबन 750 सदस्यों को संसदीय कार्य मंत्री की ओर से आमंत्रण भेजा गया था। किन्तु सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अखिलेश यादव और मीसा भारती जैसे नेता इस डिनर पार्टी में शामिल नहीं हुए। जबकि, कांग्रेस की तरफ राज्यसभा के नेता गुलाम नबीं आजाद पार्टी में शामिल हुए। 

डिनर पार्टी में परोसे गए केवल शाकाहारी व्यंजन
इस दौरान पार्टी की कुछ तस्वीरें सामने आई हैं। जिसमें एक ही मेज पर पीएम मोदी, उपराष्ट्रपति वैंकैया नायडू, कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद, डीएमके की सांसद कनिमोझी और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन बैठें दिखे। सरकारी फाइव स्टार होटल में आयोजित आधिकारिक डिनर में सिर्फ शाकाहारी व्यंजन परोसे गए। इस डिनर पार्टी में आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह, बीजेपी में शामिल हुए टीडीपी के तीन सांसद वाई एस चौधरी, सीएम रमेश और टीजी केंकटेश डिनर में उपस्थित थे।

कई सांसद पीएम मोदी के साथ सेल्फी लेते भी दिखे

इस डिनर पार्टी के दौरान पीएम मोदी ने नवनिर्वाचित सांसदों को बधाई दी और सांसदों को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने पहले लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन द्वारा निभाई गई भूमिका की सराहना की। सूत्रों ने कहा कि डिनर इसलिए आयोजित की गई ताकि प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्य दोनों सदनों के सभी सांसदों से अनौपचारिक माहौल में मिल सकें। बीजेपी नेता राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि सांसदों ने प्रधानमंत्री के साथ बहुत ही अनौपचारिक तरीके से बातचीत। यहीं नहीं कई सांसद पीएम मोदी के साथ सेल्फी लेते भी दिखे।

डिनर पार्टी अनौपचारिक और अच्छा कदम : कार्ति चिंदबरम

डिनर पार्टी को लेकर उपराष्ट्रपति वैंकैया नायडू ने एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा कि, आज दिल्ली के अशोक होटल में, संसद सदस्यों के सम्मान में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा आयोजित रात्रिभोज में सम्मिलित हुआ। वहीं इस दल में शामिल होकर निकले कांग्रेस सांसद कार्ति चिंदबरम ने बताया कि, पीएम मोदी का सांसदों के लिए डिनर का आयोजन करना एक अच्छा कोशशि।है। हममें से अधिकतर लोग पहली बार आए हैं, यह पूरी तरह से अनौपचारिक और अच्छा कदम है।