कोमल और पवन दोनों की जिम्मेदारी लेगी सरकार

बंजार के भेउट मोड़ में हुए दर्दनाक बस हादसे में दो बच्चों के माता-पिता की मौत हो गई है। अब सरकार ने दोनों बच्चों को गोद लेने का फैसला लिया है। इस बात का खुलासा बंजार विधानसभा के विधायक सुरेंद्र शौरी ने किया है। बता दें कि एक बच्ची के पिता और दूसरे बच्चे की मां की हादसे में दर्दनाक निधन हो गई है। दोनों बच्चे भी हादसे में जख्मी हो गए हैं, जो क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में उपचाराधीन हैं। लिहाजा, पवन और कोमल को प्रदेश सरकार की मुताबिक के आधार पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया इन बच्चों को गोद लेगी। इनकी पढ़ाई का खर्चा भी सरकार उठाएगी। विधायक सुरेंद्र शौरी ने बंजार में बताया कि जितने भी लोग हादसे का शिकार हो गए हैं, 
 
उनके परिवार के साथ-साथ जख्मी हुए लोगों की सरकार यथासंभव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि कोई भी वाहन मालिक और चालक किसी भी प्रकार की ओवरलोडिंग नहीं करेगा। विधायक ने बताया कि सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं कि और किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाएगी। इस दर्दनाक हादसे में जितने भी लोगों की मौत हुई है, उनके परिवार के लिए एक हफ्ते के बीच में चार-चार लाख दिए जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि एक लाख निगम की ओर से भी तुरंत दिए जाएंगे। पत्रकार वार्ता में बताया कि रविवार से गाडागुशैणी लिए निगम की एक बस चलाई जाएगी।
उन्होंने कहा कि जितने भी जख्मी लोग हैं, उनका पूरा इलाज सरकार वहन करेगी। रेडक्रास सोसायटी की तरफ  से भी उन्हें पूरी सहायता दी जा रही है, उन्होंने अस्पताल बंजार में हादसे वाले दिन रूई पटियां तथा अन्य चीजों की कुछ कमी पर मीडिया द्वारा पूछे गए प्रश्न पर कहा कि इसके लिए विभाग से जबाव मांगा जाएगा। उन्होंने बताया कि हाल में हुए हादसे को लेकर के एनएच 305 अथॉरिटी ने 105 ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए हैं,  उन सभी स्पॉट पर तुरंत से काम किया जाएगा। इस दौरान बंजार विधानसभा के उपाध्यक्ष श्रवण कुमार, सचिव जय सिंह ठाकुर, प्रधान शेर सिंह, बालक राम ठाकुर, दिनेश आदि लोग उपस्थित रहे