पूर्व मिस इंडिया के साथ मनचलों ने किया बुरा बर्तोव, facebook पर सुनाई आपबीती

पूर्व मिस इंडिया यूनिवर्स रहीं मॉडल और अभिनेत्री उशोशी सेनगुप्ता (Ushoshi sengupta) ने हाल ही में अपने साथ हुए अभद्र व्यवहार के बारे में फेसबुक पर पोस्ट शेयर किया था। अब इस मामले में कोलकाता पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के लिए बता दें कि उशोशी ने वर्ष 2010 में मिस इंडिया यूनिवर्स का खिताब जीता था।
  दरअसल, उशोशी सेनगुप्ता अपना काम समाप्त कर कोलकाता के एक होटल से अपने घर लौट रही थीं। उशोशी ने अपने पोस्ट में लिखा कि वह सोमवार को रात तकरीबन 11.40 पर अपना काम समाप्त करके  JW मैरियट होटल से घर के लिए लौट रही थीं। उशोशी सेनगुप्ता के साथ उनका सहकर्मी भी था। दोनों ने उबर कैब बुक की। आधा रास्ता तय करने के बाद कुछ लड़कों का एक गैंग आया और उसने उशोशी सेनगुप्ता की कैब में बाइक से टक्कर मार दी। इसके बाद उन लड़कों ने उशोशी के कैब ड्राइवर को कार से बाहर निकालकर पीटना शुरू कर दिया।
उशोशी ने आगे लिखा कि घटनास्थल के पास उन्हें एक पुलिस अधिकारी दिखा उशोशी ने पुलिस से उन लड़कों को रोकने के लिए कहा इसपर पुलिस ने बताया कि यह उसके नहीं बल्कि  भवानीपुर पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र की घटना है। उशोशी ने पुलिस से लगातार गुजारिश की इसके बाद पुलिस ने कुछ लड़कों को गिरफ्तार कर लिया। उन लड़कों ने पुलिस अधिकारी को धक्का दिया और वह वहां से भाग गए। इसके बाद भवानीपुर पुलिस स्टेशन से दो पुलिस वाले आए। इसके बाद उशोशी और उसके सहकर्मी ने वहां से चलने का निर्णय किया क्योंकि तब तक 12 बज चूके थे। 

इसके बाद भी वह लड़के उनका पीछा करते रहे। जब वह अपने सहकर्मी को छोड़ रही थी तब तीन बाइक पर छह लड़कों ने आकर हमारे साथ मारपीट शुरू कर दी। मुझे बाहर खींच लिया और वीडियो डिलीट करने लिए मेरे फोन को तोड़ने की प्रयास करने लगे। उन्होंने आगे लिखा कि मैं चिल्लाई तो आसपास उपस्थित लोग वहां आए, जिसके बाद उन लड़कों ने वो जगह छोड़ी। इसके बाद मैंने अपने पिता और बहन को इसकी जानकारी दी और उन्हें बुलाया।

इसपर प्रतिक्रिया देते हुए पुलिस ने कहा कि हमने इस घटना को बहुत गंभीरता से लिया है। अबतक इस मामले में सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही कोलकाता पुलिस कमिश्नर ने इस बात की तलाश बैठाई है कि मामले पर एफआईआर क्‍यों नहीं दर्ज की गई।