100 नंबर पर किया फोन और कहा - मेरी बीवी का रेप के बाद मर्डर हो गया, पुलिस पहुंची तो खुली पूरी सच्चाई

नोएडा में एक शख्स के द्वारा पुलिस को गुमराह करने का मामला सामने आया है। जहां पर एक शख्स ने बुधवार-गुरुवार की रात को पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर दावा किया कि उसकी पत्नी के साथ बलात्कार किया और उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक शख्स का नाम नरेश सिंह है जो कि फेज-2 पुलिस थाना क्षेत्र इलाहाबास गांव का निवासी है। रमेश ने बुधवार रात करीब 5 बजे डायल 100 पर फोन कर कंट्रोल रूम को बताया कि उसकी पत्नी के साथ रेप किया गया है और उसकी हत्या कर दी गई।

मौके पर पहुंची पुलिस तो पता चली पूरी सच्चाई
घटना की सूचना मिलने के बाद ही मौके पर जब पुलिस पहुंची तो वहां घर में सब कुछ सामान्य था। पुलिस ने जब शख्स से पूछताछ किया तो पता चला कि उसने पुलिस को गुमराह करने के लिए कंट्रोल रूम में फोन किया था। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने रमेश के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 10, 116 के अलावा क्रिमिनल प्रोसीजर कोड की धारा 151 के तहत मामला दर्ज किया  है।

पुलिस बोली- रमेश ने पुलिस को किया है गुमराह 

घटना के संबंध में पुलिस ने कहा है कि रमेश ने कंट्रोल रूम में फोन करके पुलिस को गलत जानकारी दिया और गुमराह करने का प्रयास भी किया है इसलिए उसके खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की गई। पुलिस ने कहा कि ये कार्रवाई इसलिए भी जरूरी है ताकि वो या फिर कोई दूसरा व्यक्ति भविष्य में ऐसा कदम ना उठाए। पुलिस को सूचना तभी जब वो किसी मुसिबत में हो अन्यथा रात को पुलिस को बेवजह परेशान करने से कुछ नहीं मिलने वाला।

गुरुग्राम में भी सामने आया है ऐसा मामला

आपको बता दें कि ऐसा ही एक और मामला गुरुग्राम में भी सामने आया है, जहां पर अपनी पत्नी को एक व्यक्ति के खिलाफ फर्जी यौन शोषण का आरोप लगाने का दबाव बनाने की वजह से पति के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। आरोपी पति जिसकी उम्र अभी 44 वर्ष है उसने अपनी पत्नी पर दबाव बनाया कि वह एक व्यक्ति के खिलाफ फर्जी यौन शोषण का मामला दर्ज करा दे। जिससे कि वह उसको ब्लैकमैल करके पैसा ऐंठ सके। घटना के बारे में सच्चाई सामने आने के बाद पुलिस ने शख्स के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। जिस शख्स के खिलाफ महिला ने आरोप लगाया था वो कोई और नहीं बल्कि जिला और सत्र न्यायालय के जज थे।