बीड़ के वीराने में पेड़ से लटकी मिली मोहब्बत, मरने से पहले प्रेमी व नाबालिग प्रेमिका ने किया था ये काम

प्रेम प्रसंग से जुड़े मामले में युवक व युवती सीकर से बाइक पर लक्ष्मणगढ़ पहुंचे। इसके बाद बाइक को सडक़ किनारे खड़ा कर बीड़ में पहुंचे और यहां पेड़ से लटक कर दोनों ने जान दे दी। इससे पहले दोनों यहां बहुत देर तक रुके रहे और भूख लगने पर चिप्स तथा प्यास पर कोल्ड ड्रींक्स पी। पुलिस दोनों के बीच प्रेम प्रसंग का मामला बता रही है और दोनों का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिए हैं। 

पुलिस के मुताबिक़ मृतकों की पहचान 
मनासिया(लक्ष्मणगढ़) निवासी युवक अशोक व राजगढ़ निवासी 17 वर्षीय अभिलाषा स्वामी के रूप में हुई है। मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा होने पर दोनों प्रेमी युगल बुधवार से ही घर से लापता थे। घटना की सूचना पर अवसर पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को नीचे उतारा और गले में बंधी रस्सी से अलग किया। इसके बाद सीकर उद्योग नगर थाने की पुलिस के साथ दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए लक्ष्मणगढ़ स्थित सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर में भिजवाया गया। क्योंकि घटना के एक दिन पहले सीकर निवासी युवती के मामा ने अभिलाषा के अपहरण की रिपोर्ट उद्योग नगर थाने में दर्ज कराई थी। 
इसलिए पुलिस युवती की तलाश कर रही थी। किन्तु, यहां राजगढ़ के अशोक का शव उसके साथ देखकर पुलिस भी सकते में आ गई थी। घटना के संबंध में मृतका और मृतक के भाई ने मृग का मामला दर्ज करवाया है। जिसकी पुलिस जांच कर रही है। मौके पर पहुंची पुलिस को मृतक अशोक का एक जूता पेड़ पर टंगा मिला। मौत के बाद दोनों शवों के पैर जमीन पर टिक गए थे। जिन पर संदेह पैदा हुआ। संभवत: दोनों ने पहले गले में रस्सी बांधी और फिर दोनों पेड़ पर चढकऱ नीचे कूदे होंगे। झटका लगने और दम घुटने पर दोनों ने दम तोड़ दिया।

दो महीने से था अवसाद में मृतक अशोक
युवती मंगलवार को ही राजगढ़ से सीकर के राधाकिशनपुरा में रहने वाले अपने मामा के यहां आई थी। बुधवार को अशोक गोदारा के साथ वह घर से निकल गई। इस बीच उसके मामा ने उद्योग नगर थाने में अपहरण का मुकदमा दर्ज करवा दिया था। पुलिस को घटना स्थल के पास से चिप्स के पैकेट व कोल्ड ड्रींक्स की खाली बोतल तथा लेडिज पर्स मिला है। इसके अलावा मौके से बाइक की चाबी मिली है। 

बाइक को सडक़ किनारे खड़ा कर दोनों यहां पैदल पहुंचे थे। तीन भाई बहनों में अशोक सबसे छोटा था। इसने एक वर्ष पहले ही आइटीआइ की थी। फिलहाल अवसाद में पिछले दो महीने से घर पर ही रहता था। मृतक का पिता विदेश में रहता है। जिसको घटना की सूचना दी गई है। घटना के बाद मृतक व मृतका के शव परिजनों के हवाले कर दिए गए। दर्ज हुए मुकदमों के आधार पर प्रकरण की जांच की जा रही है। युवती के मामा ने उद्योग नगर थाने में उसके अपहरण की रिपोर्ट दी थी।