प्रेमी ने ही की थी नवविवाहिता की हत्या, धर्म भाई की आड़ में चल रहा था उसका प्रेम प्रसंग..!

छोटा भाणुजा में नवविवाहिता की हत्या उसी के प्रेमी ने की थी। जो धर्म भाई की आड़ में उसके घर आता जाता रहता था। और लंबे वक्त से उनके बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। शादी के बाद भी नवविवाहिता उसके प्रेमी पर दबाव बना रही थी कि वह उससे विवाह करके उसे भगा ले जाए। जबकि प्रेमी युवक पहले से शादीशुदा था। इसी कारण से युवक ने चाकू घोंप कर नवविवाहिता की हत्या कर डाली। खमनोर पुलिस ने गुरुवार देर रात आरोपी प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया।
जिला पुलिस अधीक्षक भूषण यादव ने बताया कि नाल की भागल छोटा भाणुजा निवासी वरदी (22) पुत्री मगन सिंह की 11 जून रात 8 बजे खेत पर चाकू घोंप कर हत्या कर दी गई। वारदात के बाद एसपी ने कुंवारिया थाना प्रभारी दिलीप सिंह के नेतृत्व में विशेष पुलिस दल गठित किया। पुलिस दल ने त्वरित जांच करते हुए मोलेला निवासी नारायणलाल 25 पुत्र लालूराम माली को कब्जे में लेकर पूछताछ की तो हत्या करना कबूल कर लिया। पुलिस ने देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया है।

4 वर्ष से चल रहा था अफेयर 
नारायण की 4 वर्ष पहले मोलेला में वरदी से मुलाकात हुई। फिर नारायण ने खमनोर में कपड़े की दुकान खोली। जहां वरदी अक्सर आती रहती थी। और उनके बीच नजदीकियां बढ़ गई। उनके बीच बढ़ी नजदीकियों से लोग कोई शक न करें। इसलिए वरदी ने प्रेमी नारायण को धर्म का भाई बना लिया।
जिससे नारायण की बेहिचक वरदी के घर आवाजाही शुरू हो गई और उनके बीच अवैध संबंध बन गए। इस बीच वरदी की भी 6 मई को सगरूण निवासी खुमान सिंह से विवाह हो गई। फिर भी वरदी उसके प्रेमी नारायण पर ही शादी करने और भगा ले जाने का दबाव बनाती रही। जबकि नारायण पहले से शादीशुदा है। नारायण की पत्नी गर्भवती है। प्रेमिका के लगातार दबाव बनाने से नारायण लाल माली ने 11 जून को शाम 8 बजे उसके गांव पहुंचकर प्रेमिका की हत्या कर दी।