बगल में बदबू मार रही थी पति की बॉडी, लेकिन पत्नी 3 दिन तक बिंदास सोती रही

अलवर जिले के भिवाड़ी के खिजूरीबास गांव में 17 सितंबर से लापता 24 साल के एक युवक की हत्या का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। युवक की लाश 4 दिन बाद एक खेत से अधजली हालत में मिली है। पुलिस को इस हत्याकांड में उसकी पत्नी पर शक है। पुलिस ने पत्नी को पूछताछ के लिए उठा लिया है। 

जानिए क्या है पूरा घटनाक्रम
कुलदीप यादव पुत्र शमशेर सिंह 17 सितम्बर की रात से गायब था। हालांकि पत्नी निशा ने रातभर किसी को इस बारे में कुछ नहीं बताया। अगले दिन युवक की मां को इस बारे में पता चला। इसके बाद युवक को ढूंढने की कवायद शुरू हुई। हालांकि जब पूरे दिन तलाशने के बाद भी युवक की कोई खोज-खबर नहीं लगी, तब 19 सितंबर को पुलिस में गुमशुदगी दर्ज कराई गई। 20 सितंबर की देर रात परिजनों को समीप के एक खेत में कुलदीप का अधजली लाश मिली। उन्होंने पुलिस को कॉल किया। कुलदीप प्रॉपर्टी डीलर था। 6 साल पहले हरियाणा के बालोर गांव की रहने वाली निशा से उसकी शादी हुई थी। दोनों के एक बेटा भी है।

4 दिन तक लाश घर में रही
पड़ताल में सामने आया है कि कुलदीप-निशा के कमरे में 19 सितंबर की रात को आग लगी थी। इससे पूरा सामान जलकर खाक हो गया था। हालांकि निशा ने इस बारे में भी किसी को कुछ नहीं बताया। अगले दिन परिजनों को इसकी खबर लगी, तो उन्होंने बची-खुची आग को बुझाकर कमरा बंद कर दिया। इसी शाम निशा ने पूरे कमरे की सफाई कर दी। कुछ जले हुए सामान को ठिकाने लगाने निशा ने अपने छोटे भतीजे की मदद ली। 
दोनों जले हुए सामान को एक चादर में भरकर खेत में ले गए। हालांकि रास्ते में भतीजे ने चादर में लाश देख ली। बताते हैं कि निशा ने बच्चे को चुप करा दिया। लेकिन बच्चा लाश देखकर डर गया और रात को उसकी तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद उसने लाश वाली बात परिजनों को बता दी। इसके बाद पुलिस को सूचित किया गया।