दो साल पहले किया प्रेम विवाह, लेकिन 8 महीने के बाद मां-बाप को कुछ इस तरह मिला बेटा

मुरादाबाद जिले के छजलेट थाना क्षेत्र में रहने वाले एक युवक ने कीटनाशक निगल लिया। मंगलवार तड़के वह बेहोशी की हालत में कटघर थाना क्षेत्र के गांव हृदयपुर के पास पड़ा मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवक को 108 एंबुलेंस द्वारा जिला अस्पताल भिजवाया। जहां डॉक्टरों ने भर्ती करके उसका उपचार शुरू कर दिया। युवक की हालत स्थिर बताई जा रही है।

जानिए क्यों किया था इन्होंने प्रेम विवाह 
छजलेट थाना क्षेत्र के गांव भटावली निवासी राजमिस्त्री जयपाल सैनी का बड़ा बेटा 27 वर्षीय पवन फोटोग्राफी करता है। पवन ने सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के झाझनपुर निवासी कुसुम से प्रेम विवाह किया था। पवन और कुसुम की एक बेटी भी है। जयपाल ने बताया की 2 साल पहले कुसुम उनके बेटे पवन को लेकर अपने मायके में आकर रहने लगी। 

कुसुम ने अपनी ससुराल वालों पर दहेज उत्पीड़न और देवर के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज करा दिया, जिसकी पुलिस जांच कर रही है। जयपाल ने बताया की पवन 8 महीने से लापता था। सोमवार को पवन ने ही अपने पिता को फोन करके मिलने की इच्छा जताई थी। मंगलवार तड़के पुलिस ने उन्हें सूचना दी कि उनका बेटा कटघर थाना क्षेत्र में गांव हृदयपुर के पास बेहोशी की हालत में पड़ा मिला है। जिसे जिला अस्पताल भेजा जा रहा है।

आठ महीने के बाद देखा गया है कुछ ऐसा
सूचना मिलते ही जयपाल अपनी पत्नी धर्मवती के साथ करीब 4 किलोमीटर पैदल चलकर जिला अस्पताल पहुंचे। उनका कहना है कि उन्हें नहीं पता कि पवन को किस बात की टेंशन है। उन्होंने तो 8 महीने बाद आज ही अपने बेटे की शक्ल देखी है। उन्हें यह भी नहीं पता कि पवन ने खुद जहर खाया है अथवा उसे किसी ने जहर दिया है। जयपाल के अनुसार उन्होंने अस्पताल आते समय पवन की पत्नी को फोन पर सूचना दी थी। मगर इसके बाद भी उसने जिला अस्पताल आना जरूरी नहीं समझा। उधर जिला अस्पताल प्रशासन ने सिविल लाइन पुलिस को लिखित रूप से मामले की सूचना दे दी है। पवन की हालत स्थिर बनी हुई है।