आए थे सस्ते में कार खरीदने, लेकिन फिर कुछ ऐसा हुआ की अब कभी कार नहीं खरीदेंगे...

भरतपुर जिले के पहाड़ी थाना क्षेत्र के धीमरी गांव के जंगल में सस्ते में कार खरीदने आए उत्तरप्रदेश के झांसी निवासी तीन जनों को गुरुवार दोपहर ठग गिरोह ने हथियारों के बल पर मारपीट की और इनसे करीब 20 हजार रुपए, चार मोबाइल, एटीएम कार्ड लूट कर भाग गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और घेराबंदी कर दो जनों को पकड़ एक कार को कब्जे में लिया है। जबकि दो अन्य भाग निकले। उधर, वारदात का शिकार हुए व्यक्ति थाने में पहुंचने के बाद भी भयभीत दिखे।
झांसी जिले की तहसील मऊरानीपुर गांव बड़ागांव निवासी ओमकार सिंह पुत्र शिवशंकर सिह ने बताया कि कृष्णपाल सिंह पुत्र हाकम सिंह ने कार बिक्री का ऑनलाइन विज्ञापन देखकर मोबाइल पर रविकुमार नामक व्यक्ति ने बात की गई। जिस पर 5.80 लाख रुपए में कार खरीद का सौदा हो गया। कार देखने के लिए इमलाटा निवासी उपेन्द्र पुत्र श्रीराम सहाय को साथ लेकर ट्रेन से मथुरा पहुंचे। यहां से होडल होते हुए फिरोजपुर झिरका आ गए। यहां उन्हें दो व्यक्ति कार में बैठाकर पहाड़ी क्षेत्र के गांव धीमरी के जंगल में ले गए। यहां इनके दो और साथी खड़े थे। 
इन्होंने हथियार दिखा मारपीट शुरू कर दी। धमका कर 20 हजार रुपए, चार मोबाइल, एक एटीएम कार्ड छीनकर भाग गए। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी, जिस पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और घेराबंदी कर कार सवार दो जनों को धरदबोचा। पुलिस बाद में पकड़े आरोपियों को थाने ले आई। एएसआई रामस्वरूप सिंह ने बताया कि सूचना पर एएसआई शेर सिंह को मौके पर भेजा, जिस पर पुलिस ने कार सवार दो जनों को हिरासत में लिया है। जबकि दो अन्य साथी मौके से भाग निकले। घटना के संंबंध में मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।

थाने में भी भयभीत दिखे पीडि़त

कार खरीदने आए पीडि़त इस कदर दहशत में थे कि वह पुलिस थाने पहुंचने के बाद भी भयभीत दिखे और कुछ भी बताने से घबरा रहे थे। पुलिस ने रिपोर्ट देने के लिए कहा लेकिन शाम तक मामले में मुकदमा दर्ज नहीं हो पाया। उधर, पुलिस पकड़ी कार को लेकर भी बताने से बचती दिखी।