ऐसा क्या किया अनुष्का ने की बेटी के लिए परिजनों को करना पड़ रहा है ये काम

मैनपुरी में 16 सितंबर को भोगांव स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में मृत पायी गयी छात्रा के माता पिता बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए आज भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं। परिजनों की मांग है कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। बता दें कि छात्रा की मौत को विद्यालय प्रशासन आत्महत्या बता रहा है, जबकि छात्रा के परिजन इसे हत्या बता रहे हैं।

सीबीआई जांच की मांग
इस मामले में छात्रा के परिजनों का आरोप है कि पुलिस प्रशासन मामले को दबाने की कोशिश कर रहा है। उनका आरोप है कि इस मामले में एक सप्ताह हो गया है, लेकिन इस मामले में उनकी ठीक से सुनवाई तक नहीं हो रही। उन्होंने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। सोमवार को बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए परिजन नगर पालिका के शहीद पार्क में आमरण अनशन पर बैठ गए।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर भी उठाए थे सवाल
बता दें कि छात्रा के परिजनों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर भी सवाल खड़े किए थे। उनका कहना था कि अगर छात्रा ने खुद फांसी लगाई तो उसकी गर्दन में पीछे की ओर निशान नहीं होना चाहिए था, क्योंकि फांसी लगाने के मामले में कभी पीछे की ओर निशान नहीं आता है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गर्दन पर चारों और निशान होने का जिक्र किया गया है। 

वहीं उनकी बेटी की कंठिका में फ्रेक्चर नहीं है, जबकि आत्महत्या के मामलों में इस हड्डी में फ्रेक्चर होता है। इसके अलावा भी कई सवाल हैं, जैसे छात्रा के शरीर पर चोट के निशान और उसकी हथेली पर लिखा हुआ मोबाइल नंबर, जिसकी दो डिजिट मिटी हुई मिलीं। ये सारी बातें छात्रा की हत्या की ओर साफ इशारा कर रही हैं। छात्रा के परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी की हत्या कर उसे फंदे पर लटकाया गया है।

आरोपित के परिजनों ने भी किया है प्रदर्शन
उधर, इस मामले में आरोपित छात्र के परिजनों ने भी तहसील पर प्रदर्शन किया। आरोपित के परिजनों ने उनके पुत्र को गलत फंसाए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने एसडीएम व सीओ को ज्ञापन देकर निष्‍पक्ष जांच की मांग की है।