खेत में जुताई के समय मिला सिक्कों का खजाना, लूटने के लिए मच गई होड़

किशनगंज जिले में एक खेत में उस वक्त अफरातफरी मच गई, जब खेत की जुताई के समय चांदी के सिक्कों का खजाना मिला। सिक्के लूटने के लिए ग्रामीणों में होड़ मच गयी। खेत से निकले सभी सिक्के चांदी के हैं, जिन पर विक्टोरिया क्वीन की तस्वीर है। लोगों द्वारा लूटे गए सारे सिक्के उन्नीसवीं सदी के हैं।

सिक्के पर बनी हुई है विक्टोरिया क्वीन की तस्वीर
जिले के दिघलबैंक प्रखंड के सिंघीमाड़ी पंचायत से सटे नेपाल सीमा पर खेत जोतने के क्रम में जमीन से चांदी के सिक्कों का खजाना निकला। आपको बता दें की ग्रामीणों द्वारा लूटे गए चांदी के सभी सिक्के ब्रिटिशकालीन सन 1840 ईस्ट इंडिया कंपनी के हैं, जिन पर विक्टोरिया क्वीन की तस्वीर है। सन 1877 के सिक्के पर विक्टोरिया एम्प्रेस के फोटो के निशान छपे हैं।

खेत की जुताई के समय ही मिले ये सिक्के
दिघलबैंक थाना क्षेत्र के सिंघीमाड़ी पंचायत के डाकूपाड़ा गांव में जमीन मालिक को अपने खेत की जुताई के क्रम में चांदी के ये सिक्के जमीन के अंदर से निकले। उसके बाद जमीन मालिक द्वारा खेतों में बिखरे ब्रिटिश कालीन चांदी के सिक्कों को चुनते देख आसपास के लोग भी वहां जमा हो गए और सिक्का लूटने के लिए खेत में दौड़ पड़े।
लोगों द्वारा लूटे गए सारे सिक्के उन्नीसवीं सदी के हैं। इन्हें किसी घड़े में रखकर जमीन में गाड़ा गया था। ट्रैक्टर से खेत जोतते वक्त घड़ा के टूट जाने के कारण पूरे खेत में मिट्टी के अंदर सिक्के बिखर गये थे। यही कारण है कि घटना के बाद लगातार 2 दिनों तक इन सिक्कों को खोजने के लिए आस पड़ोस के गांवों के लोगों की भीड़ खेत में लगातार जुटती रही।