रिश्ते हुए शर्मसार, बेटों ने किया मां का मुंडन, फिर चप्पलों व लातों से उनको मारा, दोनों को पुलिस ने पकड़ा

लाडनूं उपखंड क्षेत्र के निम्बी जोधा क्षेत्र में रहने वाले कालबेलिया समाज के लोगों द्वारा प्रेम प्रसंग के मामले में प्रेमी जोड़े को अमानवीय यातनाएं देने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपी पीडि़त महिला के सगे बेटे हैं। महिला के बेटों ने इस दुनिया के सबसे पवित्र रिश्ते को न केवल शर्मसार किया, बल्कि मुंडन कर लातों व चप्पलों से मारपीट भी की।
जानकारी के अनुसार ग्राम निम्बी जोधा में नाथ सपेरा (कालबेलिया) परिवार में प्रेम प्रसंग के मामले में प्रेमी युगल को दी गई अमानवीय यातनाओं बाल काटने, पेशाब पिलाने व मारपीट करने का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस अधिकारियों ने गंभीरता से लेते हुए घटनास्थल पर पंहुचकर मौका मुआयना किया व आवश्यक जानकारी जुटाई। सोमवार देर शाम निम्बी चौकी पहुंचे एसपी डॉ. विकास पाठक, डीडवाना एएसपी नितेश आर्य, डीएसपी गणेशाराम चौधरी ने पीडि़त पक्ष से मुलाकात कर मामले की पूरी जानकारी ली। 
दोनों पीडि़तों का मेडिकल करवाकर उन्हें परिवार को सुपुर्द कर दिया गया तथा उनके पर्चा बयान के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू की। मंगलवार को पुलिस ने महिला को यातनाएं देने वाले आरोपियों की पहचान उसी के सगे दो बेटों के रूप में की। पीडि़त महिला ने अपने पुत्र राजूनाथ व मोतीनाथ, जेठानी सायरी व दूर के रिश्ते के दामाद सूरजनाथ व एक अन्य महिला द्वारा उसके व पाली जिला निवासी व्यक्ति के साथ अमानवीय व्यवहार करने का पर्चा बयान दिया, जिस पर अनुसंधान किया जा रहा है। 
एसपी पाठक के निर्देशानुसार व एएसपी नितेश आर्य व वृत्ताधिकारी गणेशाराम के सुपरविजन में अलग-अलग टीमें गठित कर आरोपियों की तलाश के लिए दबिशें दी जा रही है। प्रकरण के मुख्य आरोपी महिला के पुत्र राजूनाथ व मोतीनाथ पुत्र भंवरनाथ नाथ सपेरा निवासी निम्बी को गिरफ्तार किया गया है। मामले में शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। पुलिस ने कहा कि ऐसी घटना को अंजाम देने वाले एक भी दोषी को किसी भी सूरत पर बख्शा नहीं जाएगा।