1 फुट गड्ढे के अंदर इस आदमी ने गाड़ ली अपनी गर्दन, इसके बाद जो हुआ जानकर दंग रह जाएंगे...

दीपावली के आसपास सिद्धी पाने के लिए तांत्रिक कुछ भी करने को तैयार है। हर कीमत पर दैवीय शक्तियाँ और काली सिद्धियाँ प्राप्त करने के लिए, तांत्रिक अपना जीवन भी दाव पर लगा देता है। ऐसा ही कुछ मेरठ (मेरठ) में भी देखने को मिला, जहां सारथीपुर इलाके में एक तांत्रिक ने सिद्धी को पाने के लिए अपने गर्दन को गड्ढे में गाड़ लिया। कुछ ही समय बाद, युवक की हालत बिगड़ गई और उसका दम घुटने लगा। लेकिना सिद्धि पाने की लालच में भी उसने अपने सिर को गड्ढे में से बाहर नही निकाला।
सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और समय रहते युवक का सिर मिट्टी से बाहर निकाला। तब जाकर युवक की जान बची। पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया और फिर दोबारा ऐसा न करने की चेतावनी देते हुए युवक को रिहा कर दिया। सरूरपुर थाना क्षेत्र के जसड़ सुल्तानगर गांव के रहने वाले सुदेश पुत्रा जग्गुबा को पुलिस ने क्षेत्र में सूर्य गिरि के मंदिर के सामने मौत से बचा लिया। 
इधर तांत्रिक सुदेश ने सिद्धि प्राप्त करने के चक्र में समाधि लेना शुरू कर दिया। बताया गया कि युवक ने गड्ढा खोदकर अपना सिर नीचे कर लिया था। ऊपर शरीर पर कीचड़ था। कॉलेज से लौटने के बाद घर लौट रहे बच्चे युवक को देखकर डर गए। इसी बीच किसी ने इसकी सूचना थाने को दे दी। जब पुलिस मौके पर पहुंची, तो हमने देखा कि युवक बुरी तरह से तड़प रहा था। पुलिस ने तुरंत कीचड़ हटाया और उसके सिर को गड्ढे से बाहर निकाला। बाहर निकलते ही युवक के जान में जान आ गयी।