सड़क के एक गड्ढे के वजह से चली गई इस 21 वर्षीय डॉक्टर की जान, अगले महीने ही होनी थी शादी

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में सड़क के गड्ढे ने गुरुवार को 21 वर्षीय महिला डॉक्टर की जान ले ली। मृतका अपनी स्कूटी से घर जा रही थी तभी रोड पर गड्ढा आने से उसका संतुलन बिगड़ गया और वह पीछे से आ रहे ट्रक के नीचे आ गई। हादसे में महिला की मौके पर ही मौत हो गई, अगले महीने शादी होने वाली थी। 
सहायक पुलिस निरीक्षक महेश सागड़े ने बताया कि बुधवार देर रात कुडूस गांव की रहने वाली नेहा शेख भिवंडी शहर से अपने घर की तरफ जा रही थी तभी यह दुर्घटना घटी। महिला अपने भाई के साथ दो पहिया वाहन पर जा रही थी तभी दुगढ़ दोराहे के पास वाहन गड्ढे में फिसलने से वह अपना संतुलन खोकड़ सड़क पर गिर गई। सागड़े ने बताया कि पास गुजर रहा ट्रक महिला को रौंदते हुए निकल गया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। ट्रक चालक मौके पर फरार हो गया उसकी तलाश पुलिस कर रही है।
बता दें, पुलिस ने धारा-304ए के तहत लापरवाही से गाड़ी चलाने का मुकदमा अज्ञात ड्राइवर पर दर्ज कर दिया गया है। इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है, उधर मृतक महिला के घर पर मातम छाया हुआ है। घर वालों ने सरकार और सड़क ठेकेदार को बेटी की मौत का जिम्मेदार बताया है उनका कहना है कि सरकार टैक्स और चालान की राशी तो बढ़ा देती है लेकिन सड़क की मरम्मत पर एक पैसा खर्च नहीं होता।
आदिवासी कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन श्रमजीवी संघटना के कई सदस्यों ने घटना स्थल पर पहुंच के हंगामा किया और अनगांव टोल बूथ को भी बंद करा दिया। उनका कहना है कि सड़क पर गड्ढों की वजह से अबतक कई जानें जा चुकी हैं लेकिन प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। संगठन के सदस्यों ने लोक निर्माण (पीडब्ल्यूडी) और सड़क निर्माण और रख रखाव के लिए जिम्मेदार संस्था के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा वह टोल बूथ को तब तक नहीं खोलेंगे जबतक उनकी मांग नहीं पूरी कर दी जाती।