निकाह की तैयारियां पूरी हो चुकी थीं, लेकिन एक बुलेट के वजह से नहीं पहुंची बरात, जानिए कारण...

बिजनौर क्षेत्र के महमदाबाद में मंगलवार को लड़की पक्ष ने निकाह की सारी तैयारियां पूरी कर ली थीं, लेकिन ऐन मौके पर लड़के वाले बरात लेकर नहीं पहुंचे। इससे लड़की पक्ष की सारी तैयारियां धरी की धरी रह गई। उनका आरोप है कि लड़का पक्ष दहेज में पांच लाख रुपये और एक बुलेट बाइक की मांग पूरी न होने पर बरात लेकर नहीं पहुंचा। लड़की पक्ष ने पुलिस को तहरीर देने की बात कही है।
थाना शेरकोट क्षेत्र के गांव महमदाबाद में निवासी एक युवती का पिछले लगभग दो वर्ष से थाना अमरोहा के गांव दाउद सराय निवासी एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवक की महमदाबाद में अन्य व्यक्ति के यहां रिश्तेदारी होने से आना जाना यहां रहता था। जब इनके प्रेम प्रसंग की भनक दोनों के परिवार वालों को लगी तो इसका विरोध किया। लेकिन दोनों की शादी करने की जिद को लेकर पंद्रह दिन पूर्व शेरकोट थाने में निकाह की सहमति हो गयी थी। 15 अक्टूबर को निकाह तय हुआ और बरात आनी थी।
मंगलवार को लड़की पक्ष बरात की पूरी तैयारी किए बैठा था, लेकिन समय बीतने पर भी बरात नहीं पहुंची। जिस पर लड़की पक्ष को चिता हुई, तो उन्होंने दूल्हे पक्ष से संपर्क किया। आरोप है कि दूल्हे पक्ष ने पांच लाख रुपये व बुलेट मोटर साइकिल की मांग की। जब लड़की पक्ष ने इतना दहेज देने में असमर्थता जताई तो दूल्हे पक्ष ने बरात लाने से इंकार कर दिया। इसे लेकर निकाह में आए रिश्तेदारों व परिजनों में हड़कंप मच गया। गांव में बरात न आने को लेकर रोष व्याप्त हो गया। जिस पर लड़की पक्ष ने पुलिस को तहरीर देने की बात कही। थानाध्यक्ष संजय कुमार का कहना है कि तहरीर मिलने पर जांच करते हुए उचित कार्रवाई की जाएगी।