पति ने ही कर दिया अपने पत्नी और बेटे के साथ ऐसा गलत काम, जानिए....

मऊ जिले के दोहरीघाट थाना क्षेत्र के मादीसिपाह में विजयादशमी को हुई मां बेटे की हत्या खुद पति ने ही की थी। इतना ही नहीं विरोध करने पर उसने बेटे को भी गोली मार कर मौत की नींद सुला दिया। घटना को अंजाम देने की वजह पत्नी का साथ में न रहना था। हत्यकांड का खुलासा एसपी अनुराग आर्य ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता कर दियाद्घ पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि मादी सिपाह निवासी चंद्रशेखर राय उर्फ बब्बू पुत्र कर्मशंकर राय की पत्नी बलरामपुर में पिछले तीन सालों से प्राइमरी स्कूल में शिक्षिका थी। वह लखनऊ में रहती थी। 
चंद्रशेखर उसे अपने पास रखना चाहता था। लेकिन रेखा ने अप्रैल 2019 में अपने बच्चों का एडमीशन लखनऊ में ही करा लिया और बच्चों के साथ वहीं रहने लगी। इससे बब्बू उससे खास नाराज रहने लगा था। पत्नी बच्चे के साथ जब दहशहरा मनाने गांव आई तो चंद्रशेखर को मौका मिल गया। पत्नी से नाराजगी के चलते उसने आठ अक्तूबर 2019 को सुबह पौने ग्यारह बजे पत्नी रेखा के सिर में गोली मार दी। मां को गोली मारते देख रेखा के बड़े बेटे हर्षित राय ने विरोध किया तो चंद्रशेखर ने उसे भी सिर में गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया। आरोपी चंद्रशेखर को मादी सिपाह के पास से थानाध्यक्ष रुपेश कुमार राय ने शुक्रवार को सुबह गिरफ्तार कर लिया।