न्यूज चैनल में एक लड़की से थेअवैध संबंध, इसलिये दोस्त को भेज दिया बीवी के पास, करवाई सारी हदें पार...

यूपी के इटावा में 14 अक्टूबर को एक निजी न्यूज चैनल के एंकर की पत्नी की लाश मिली थी। महिला की फूलदान से वारकर हत्या की गई थी। चार दिनों से पुलिस मामले की तफ्तीश में लगी थी। कॉल डिटेल और सर्विलांस की मदद से आखिरकार पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए महिला के न्यूज एंकर पति और उसकी प्रेमिका सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एंकर पति ने ही पत्नी का करवाया मर्डर
इटावा पुलिस ने न्यूज एंकर अजितेश मिश्रा की पत्नी दिव्या मिश्रा हत्याकांड का खुलासा करते उसके पति समेत तीन टीवी पत्रकारो का गिरफतार करने का दावा किया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि 14 अक्टूबर को दोपहर 2 और तीन बजे के बीच दिव्या मिश्रा की उसके आवास में तीसरी मंजिल पर हत्या कर दी गई थी। वारदात के चौथे दिन पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि पुलिस के लिये चुनौती बने दिव्या मिश्रा हत्याकांड में सर्विलांस के अलावा अन्य तथ्यों से पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि न्यूज एंकर अभिजेश मिश्रा के एक न्यूज चैनल में काम करने वाली महिला पत्रकार से अवैध संबध थे। जिसके बाद से वह अपनी पत्नी को बीच से हटाना चाहता था। इसी को लेकर दिव्या और अभिजेश के बीच करीब 8 माह से विवाद चल रहा था।

पुलिस ने सभी को किया गिरफ्तार
एसएसपी संतोष मिश्रा ने बताया कि अपनी पत्नी की हत्या के मामले में न्यूज एंकर पति अजितेश मिश्रा, पत्रकार अखिल और साथ में ही काम करने वाली महिला साथी भावना आर्या को गिरफ्तार कर लिया गया है। भावना आर्या से संबधो के चलते हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया। उन्होंने बताया कि भावना को लेकर करीब 8 माह से दिव्या ओर अजितेश के बीच विवाद चल रहा था। भावना के चैनल से रिजाइन करने के बाद अजितेश ने भी 30 सितम्बर को एफएम चैनल को रिजाइन कर दिया था। अजितेश के साथ काम करने वाले एमएफ न्यूज चैनल पत्रकार अखिल सिंह ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया। एसएसपी के मुताबिक अखिल सिंह दिव्या का मुंह बोला भाई बन कर रहता था। नोयडा में दिव्या से राखी भी बंधवाई थी। वारदात के दिन अखिल जब दिव्या को मारने आया, उस दिन दिव्या ने उसे अपनी शादी का एलबल दिखाया। उस समय अखिल ने दिव्या को मारने का इरादा छोड़ दिया, लेकिन अजितेश ने दिव्या की हत्या के लिए दबाब बनाया।

दिव्या के मोबाइल ने खोला राज
एसएसपी ने बताया कि दिव्या के मोबाइल ने हत्या का राज खोला है। शादी के चार साल बाद दिव्या के बच्चा न होना भी हत्या की वजह में से एक है। उन्होंने बताया कि अजितेश अपनी पत्नी की हत्या के बाद भावना से शादी करना चाहता था। इसी के चलते उसने एक रात शराब पिलाने के बाद पत्रकार साथी अखिल सिंह से दिव्या की हत्या करने के हामी भरवा ली। इसी कडी में अखिल 14 अक्टूबर को इटावा आया और दिव्या के घर पर होशियारी से पहुंचा। जब दिव्या और अखिल चाय पीकर फ्री हो गया। उसके बाद दिव्या की हत्या उसने गुलदस्ता सिर में मारके कर दी और बड़े ही आराम से घर से हत्या की वारदात को अंजाम देकर फरार हो गया।

अजितेश ने पूछताछ में कबूल किया जुर्म
एसएसपी ने बताया कि अजितेश से पूछताछ में पचा चला कि मेरे और मेरी पत्नी के बीच में अक्सर कहासुनी होती रहती थी। मेरे साथ न्यूज चैनल में काम करने वाली एक महिला से मेरे संबंध थे। जिसका पता मेरी पत्नी दिव्या मिश्रा उर्फ वर्षा को चल गया था। जिसको लेकर मेरे और मेरी पत्नी के बीच काफी विवाद भी रहता था। 7 अक्टूबर को को मेरी पत्नी द्वारा मेरी महिला मित्र से फोन पर काफी कहासुनी भी हुई थी। जिसके संबंध में मेरे साथ काम करने वाले अधिकतर लोगों को पता लग गया था। इसको लेकर मेरे और मेरी पत्नी के बीच भी फोन पर काफी कहासुनी हुई थी। जिससे परेशान होकर मैंने अपनी महिला मित्र और मेरे साथ न्यूज चैनल में काम करने वाले अन्य साथी अखिल कुमार सिंह के साथ मिलकर अपनी पत्नी की हत्या की योजना बनाई।

पहचान का उठाया फायदा
वहीं अखिल ने पूछताछ में बताया कि योजना के अनुसार मुझे कोकटरा बल सिंह स्थित अपने घर भेजा था। चूकिं अजितेश की पत्नी मुझसे पहले से परिचित थी। जिस कारण से मृतका ने उसे घर के अंदर आने दिया। उन्होंने बताया कि घर में आने के बाद दिव्या मिश्रा से बातचीत हुई। दिव्या ने मुझे अपनी शादी की एलबम दिखाई। इसी दौरान मैंने मौका पाकर दिव्या मिश्रा के सिर पर गुलदस्ते से वार करके उसे घायल कर दिया। इसके बाद हम दोनों के बीच हाथापाई भी हुई। मेरे द्वारा उसका सिर कुचल कर उसकी हत्या कर दी गयी।