ड्यूटी से घर पहुँचते ही इस महिला पुलिस ने किया ऐसा काम की अभी पति भी है हैरान

छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा में एक महिला कांस्टेबल ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतका का पति भी पुलिस कांस्टेबल है. अभी तक सुसाइड की वजह साफ नहीं है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. मृतका की पहचान रानू धुर्वे के रूप में हुई है. वह सारागांव थाने में तैनात थी. करौवाडीह जैजैपुर निवासी सनी जोशी ने प्रेम प्रसंग के बाद 2011 में रानू से शादी की थी. बाद में दोनों जांजगीर आ गए थे. उनके दो बेटे भी हैं. एक 6 साल का है तो दूसरा डेढ़ साल का है. वे सारागांव में ही किराए के मकान में रहते हैं.
पुलिस ने बताया कि कांस्टेबल रानू धुर्वे कुछ दिन पहले एक माह की छुट्‌टी पर थी. इस दौरान वह दोनों बच्चों को लेकर अपने रिश्तेदारों के साथ घूमने मनाली गई थीं. वहां से लौटने के बाद सनी और रानू के बीच विवाद होने लगा था. कांस्टेबल रानू ने ये बात अपने साथ काम करने वालों को भी बताई थी. रानू के पति सनी जोशी की पोस्टिंग डायल 112 में है. मंगलवार को वह अपनी ड्यूटी पर थी. तभी दोपहर 12 बजे के आसपास रानू के पास किसी का फोन आया और वह थाने से निकलकर अपने घर आ गईं. फिर वह वापस थाने नहीं लौटीं. रानू के पति सनी अपनी ड्यूटी खत्म कर दोपहर 2 बजे के बाद अपने घर पहुंचे तो एक कमरे में रानू फांसी के फंदे पर लटकी हुई थी.
कांस्टेबल रानू के फांसी लगाने की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में भी हड़कंप मच गया. पुलिस मौके पर पहुंची और रानू के शव को पंचनामे के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस अब यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर रानू ने अचानक सुसाइड क्यों किया. उसके पति से भी इस बारे में पूछताछ की गई है.