सुबह निकली थी घर से और रास्ते में आते वक़्त जो हुआ..अब परिवार सदमें में

इटावा में यमुना-तलहटी मार्ग पर टहलने गई महिला मंगलवार सुबह टूटकर गिरे हाईटेंशन लाइन के तार के करंट की चपेट में आ गई। मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम के बाद गुस्साए लोगों ने टिक्सी तिराहे पर शव रखकर करीब 20 मिनट तक प्रदर्शन किया। एसडीएम सदर मौके पर पहुंचे और बिजली विभाग के अधिकारियों से बात कर परिजनों को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन दिया।
कोतवाली क्षेत्र के शहर के दक्षिणी छोर स्थित यमुना-तलहटी मार्ग पर मंगलवार सुबह करीब साढ़े 5 बजे क्षेत्र में रहने वाली प्रियंका (28) पत्नी विवेक मिश्रा टहलने निकली थी। लौटते वक्त राम मंदिर के पास गिरे हाईटेंशन लाइन के तार में आ रहे करंट में चपेट में आने से प्रियंका की मौके पर ही मौत हो गई। क्षेत्र के लोगों ने बताया कि प्रियंका सड़क के किनारे से जा रही थी। तभी अचानक 11 हजार वोल्टेज की लाइन का एक तार टूटकर जमीन पर गिरा। इसी दौरान प्रियंका उसकी चपेट में आ गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
हाईटेंशन तार की चपेट में आने से आसपास के कुछ पेड़ों की टहनियां भी जल गईं। बहन के यहां मौजूद अंकित को जैसे ही इसकी खबर हुई। मौके पर पहुंचा और प्रियंका को जिला अस्पताल लेकर गया, जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। कोतवाली पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। प्रियंका के पति विवेक हादसे के वक्त फिरोजाबाद थे। वे जलनिगम विभाग में अस्थाई तौर पर कार्यरत हैं। सूचना मिलने पर वे घर आए। भाजपा नेता विकास भदौरिया व युवा मोर्चा के जिला महामंत्री सागर दुबे ने पोस्टमार्टम स्थल पर पहुंचकर एसडीएम सदर को हादसे की जानकारी देकर पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद दिए जाने की मांग की।
दोपहर करीब डेढ़ बजे पोस्टमार्टम के बाद परिजन व मोहल्ले के लोग बूंदाबांदी के बीच शव लेकर घर के समीप टिक्सी तिराहे पर पहुंचे। वहां शव रखकर बिजली विभाग के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। भाजपा युवा मोर्चा के जिला महामंत्री सागर दुबे ने एसडीएम सदर को इसकी सूचना दी। इस पर एसडीएम सदर सिद्धार्थ व सीओ सिटी चंद्रपाल सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।