वायरलेस टावर पर चढ़ गया बाबा, और फिर करने लगा ऐसी बातें और फिर....

सरदारशहर स्थित थाने में पुलिस के एक अधिकारी से नाराज होकर गांव पातलीसर के बाबा रामनाथ थाने में लगे वायरलेस के टावर पर चढ़ गए. टावर पर चढ़े बाबा को देखकर पुलिस के हाथ पांव फूल गए. थाने के पास लोगों की भीड़ जमा होनी शुरू हो गई. पुलिस के जवानों और अधिकारियों ने बाबा जी को समझाइस कर नीचे आने के लिए कहा, लेकिन बाबा जी एक पुलिस अधिकारी राजेन्द्र पर भष्ट्राचार का आरोप लगाते रहे. वह अधिकारी पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे. उन्होंने नीचे आने से इंकार कर दिया. फिर बाद में मौके पर डीवाईएसपी गिरधारीलाल शर्मा ने आकर बाबाजी को कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया तो वह टावर से नीचे उतर गए.

बाबा के आश्रम में हुई थी सोने-चांदी की चोरी
बाबा जी ने बताया कि उनके आश्रम में जुलाई में करीब 6 लाख रुपयों के सोने चांदी के सामान सहित नकदी की चोरी हो गई थी. थाने में मामला दर्ज करवाने के बाद उन्होंने पुलिस को चोर की जानकारी भी दी. पुलिस ने उस चोर को पकड़ा, लेकिन फिर उससे मिलीभगत कर उसे छोड़ दिया. बाबा ने कहा कि वह पिछले 4 महीने से थाने के चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन उन्हें सिर्फ यही कहा जा रहा है कि जांच जारी है. 

बाबा ने जांच पुलिस अधिकारी को पैसे देने की बात कही
इतना ही नहीं बाबा जी ने कहा कि उन्होंने जांच कर रहे पुलिस अधिकारी को 8 हजार रुपये भी दिए हैं. बाबा जी ने कहा कि रविवार को थाने पर पुलिस अधिकारी राजेंद्र ने उनसे अभद्र व्यवहार किया. इसी से नाराज होकर वह टावर पर चढ़ गए. बाबाजी ने कहा कि अगर पुलिस चोर के साथ मिलीभगत कर ले तो आम जनता का क्या होगा. डीवाईएसपी गिरधारीलाल ने बताया कि बाबाजी के आश्रम में चोरी हुई थी और चोर के नहीं पकड़ने जाने से बाबाजी मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी से नाराज हो गए. उन्होंने कहा कि चोर को पकड़ने का आश्वासन दिए जाने के बाद बाबा जी टावर से नीचे उतरने को राजी हुए. उन्होंने कहा कि पुलिस जल्द ही मामले का खुलासा करेगी.