मैंने कहा था, मैं आउंगा...गाना लगाया और फिर शख्स ने कर दिया ऐसा काम, जानिए....

पानीपत की देशराज कॉलोनी निवासी एक इलेक्ट्रिशियन ने फेसबुक पर लाइव आकर फंदा लगा अपनी जान दे दी। यह सब लाइव जब उसके फेसबुक के दोस्तों और भाई ने देखा तो वह उसके घर की तरफ दौड़े। लोगों की मदद से इलेक्ट्रिशियन के भाई ने कमरे का दरवाजा तोड़कर फंदे से उसे उतारा और पुलिस को सूचना दी। अस्पताल में ले जाने के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया। देशराज कॉलोनी निवासी साहिल पुत्र रमेश चंद ने बताया कि उसका भाई गगनजीत सभी भाइयों में बड़ा था। वह इलेक्ट्रिशियन का काम करता था। उसकी शादी करीब 13 साल पहले हुई थी। उसके तीन बच्चे हैं।
भाई ने आरोप लगाया कि उसकी भाभी हर माह अपने घर जाती थी। जिससे वह परेशान था। जब वह अपनी पत्नी को मायके में लेने जाता तो ससुराल पक्ष के लोग उसे परेशान करते थे। इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ। उसकी पत्नी एक माह पहले दोनों छोटे बेटों को साथ लेकर बड़े बेटे को यह कर चली गई कि वह दवाई लेने के लिए जा रही है। जब शाम तक भी वापस नहीं आई तो बेटे ने पिता को फोन कर इस बारे में बताया। जब पत्नी को फोन मिलाया तो पहले पत्नी ने और फिर साले ने दुर्रव्यवहार किया वहीं वापस न भेजने की बात कही। जिसके दस दिन बाद सास दोनों बच्चों को गगनजीत के पास छोड़ गई और साथ ही यह कहा की उसकी बेटी अब नहीं आएगी। 
पति ने बुधवार को तीनों बच्चों को ससुराल में छोड़कर आया और आते ही कमरे को अंदर से बंद कर लिया। पति ने फेसबुक ऑन किया और लाइव हो गया। जब काफी लोग उसको देख रहे थे तो उसने पंखे पर रस्सी से फंदा लगा जान दे दी। हालांकि परिवार के सदस्यों ने पुलिस को दिए बयान में पति को मानसिक रूप से परेशान बताया है। एसएचओ बलबीर ने बताया कि मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया है। पहला फेसबुक लाइव 40 सेकेंड और दूसरा लाइव 43 मिनट 48 सेकेंड तक चला।
40 सेकेंड के पहले लाइव में गगनजीत कमरे में आते ही दरवाजा बंद कर कुंडी लगाता है। फिर उसने फेसबुक पर शुरू किया। बुधवार शाम 5:52 पर बनाई गई इस वीडियो 10 सेकेंड चला, जिसमें वह रोता है। इसके 18 सेकेंड के बाद वह सिगरेट जलाता है और 40 सेकेंड बाद वीडियो बंद हो जाता है। आवाज बाहर नहीं जाए तो चलाया टीवी, गाना चल रहा था ... मैंने कहा था, मैं आउंगा। गगनजीत ने फंदा लगाते समय टीवी ऑन कर आवाज बढ़ा दी, ताकि किसी को उसकी आवाज सुनाई नहीं दे। इसके बाद टीवी को गाने पर लगा दिया। यह गाना था ... मैंने कहा था, मैं आउंगा। एक तरफ गाना चलता रहा दूसरी तरफ वह फंदे पर झूल जान दे दी।