प्रेम संबंधों का विरोध करना प्रधान को पड़ा भारी, प्रेमी-प्रेमिका ने किया ऐसा गलत काम...

एटा जिले में चार दिन पूर्व थाना अवागढ़ क्षेत्र में हुई पूर्व प्रधान की हत्या का खुलासा हो गया है। मामले में पांच हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक अवैध संबंधों का विरोध करने पर पूर्व प्रधान की गांव के ही 5 लोगों ने हत्या की थी। फरार चल रहे प्रेमी, प्रेमिका सहित पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामला थाना अवागढ़ क्षेत्र के नगला किशन सिंह का है। 
पूर्व प्रधान राजेन्द्र सिंह की प्रेमी नेत्रपाल और प्रेमिका गुड़िया ने अपने 5 साथियों के साथ हत्या कर शव को घर के पीछे फेंक दिया। वहीं मृतक पूर्व प्रधान के परिजनों को उनकी हत्या की आशंका पर उनके बेटे दुष्यंत ने प्रेमी नेत्रपाल, प्रेमिका गुड़िया सहित अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने तफ्तीश के बाद दोनों हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया, जिन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।
नेत्रपाल ने बताया कि पूर्व प्रधान राजेन्द्र पाल सिंह निवासी नगला किशन सिंह थाना अवागढ़,एटा उनकी लव स्टोरी में बाधक बन रहा था। प्रधान ने गुड़िया के घर प्रेमी नेत्रपाल के आने जाने का विरोध किया था। इससे नाराज प्रेमी-प्रेमिका ने पूर्व प्रधान की हत्या का षणयंत्र रचा। दोनों ने अपने 3 साथियों बौद्धपाल, अतेन्द्र, जगदीश के साथ मिलकर जुआ खेलने के बहाने प्रधान को बुलाकर गुड़िया के घर ले जाकर निर्मम हत्या कर दी और शव घर के पीछे फेंक दिया। हत्या के 4 दिन बाद पुलिस ने सभी हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।