मैं घर पर होती तो बेटी के साथ ऐसा गलत काम नहीं होने देती, जानिए ऐसा क्या हुआ...

फिरोजाबाद के गांव सलेमपुर खुटियाना में बेटी के हत्यारोपी पिता को पुलिस ने जेल भेज दिया है। रविवार को देर शाम अपने तीन पुत्रों के साथ मां भी गांव पहुंच गई। सोमवार को घर पर सन्नाटा रहा। मृतका की मां ने कहा कि उसका सब कुछ उजड़ गया। जसराना क्षेत्र के गांव सलेतपुर खुटियाना में प्रेम प्रसंग से खफा हरिवंश कुमार ने अपनी बेटी पूजा की करंट लगाने के बाद गड़ासे से काट कर हत्या कर दी थी। घटना के समय पूजा की मां सरिता देवी अपने तीन बेटों के साथ गुड़गांव में थी। 
मामले की जानकारी पर रविवार देर शाम पूजा के तीनों भाई और मां गांव पहुंच गए। देर रात आरोपी पिता हरिवंश कुमार को जेल भेज दिया गया। वहीं पूजा की मां सरिता देवी ने कहा कि उसका सब कुछ उजड़ गया है। बीमार होने के कारण अपने पुत्रों के पास गई थी। यदि घर पर होती तो शायद यह नहीं होता। 
सरिता देवी ने कहा कि बेटी तो हमारी बदनामी कर ही रही थी लेकिन पति को इतना बड़ा कदम उठाने से रोक लेती। बेटी भगवान के पास चली गई तो पति जेल में। इतनी बात कहकर सरिता ने बात करने से मना कर दिया। सीओ ओपी सिंह ने बताया बेटी के हत्यारोपी पिता को पुलिस रविवार को ही जेल भेज चुकी है। पूजा के प्रेमी को पूछताछ के लिए थाने बैठाया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है।  
अपनी मां के साथ घर में मौजूद भाई योगेश ने कहा कि जो भी बताना था रविवार को बता चुके हैं। अब हम इस बारे में कोई बात नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा कि रविवार का दिन हमारे परिवार का काला अध्याय है। इसे भूलना आसान नहीं है।