बुलंदशहर के अहमदगढ़ थाना पुलिस ने क्षेत्र के गांव नौरंगाबाद से बेचने के लिए झारखंड से लाई गई किशोरी को बरामद किया है। साथ ही पुलिस ने मौके से किशोरी को लेकर आई महिला समेत उसके छह खरीदारों को भी दबोचा है। सभी सात आरोपियों का चालान कर पुलिस ने किशोरी को अपने कब्जे में ले लिया है। एक महिला आरोपी की तलाश की जा रही है। जानकारी के अनुसार अहमदगढ़ थाने पर तैनात उपनिरीक्षक रामगोपाल शुक्र वार देर शाम को क्षेत्र में गश्त कर रहे थे। 
इस दौरान मुखबिर ने उन्हें सूचना दी कि क्षेत्र के गांव नौरंगाबाद में एक झारखंड निवासी महिला कलावती अपने साथ नाबालिग लड़की को लेकर गांव निवासी महिला सावित्री के घर ठहरी हुई है। वह उक्त किशोरी को बेचने के उद्देश्य से यहां लेकर आई है। सूचना मिलते ही पुलिस ने मुखबिर के बताए घर पर दबिश दी और एक महिला समेत सात आरोपियों को धर दबोचा। साथ ही मौके से एक 16 वर्षीय किशोरी को भी बरामद किया है। जिसकी शिनाख्त कलावती पत्नी तपेश्वरमा निवासी पिस्कानगरी नारो बस्ती, नगरी, रांची , के रूप में हुई। 

इसके अलावा उसके खरीदार के रूप में पहुंचे पकड़े गए आरोपियों की शिनाख्त राजेश व धीरेंद्र निवासी मोहल्ला विवेक विहार थाना खुर्जा नगर, जितेंद्र पुत्र रामभूल सिंह, प्रकाश व इंद्र पुत्रगण मुमराज निवासीगण गांव गंगाहारी थाना औरंगाबाद व महेंद्र पुत्र रामप्रसाद निवासी गांव नौरंगाबाद थाना अहमदगढ़ के रूप में हुई है। सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। फिलहाल किशोरी पुलिस के पास ही है। बताया गया कि आरोपी कलावती अपने गांव निवासी किशोरी को उसके मां-बाप को बिना बताए ही यहां बेचने के उद्देश्य से लेकर आई थी। यहां उसका सौदा 75 हजार रुपये में तय किया था। इस दौरान खरीदार पक्ष की ओर से 10 हजार रुपये भी दे दिए गए थे। पुलिस ने कलावती से दस हजार रुपये की रकम भी बरामद कर ली है।