सोमवार को देर रात्रि बरबीघा-शेखपुरा पथ पर ट्रक लूट रहे लुटेरे को खदेड़ कर बरबीघा पुलिस ने पकड़ लिया। सुमो गोल्ड पर सवार होकर चार लुटेरों रोड रॉबरी को कर रहे थे। पकड़े गए अपराधी नालंदा तथा पटना जिले के रहने बाले हैं। ये लोग अलग अलग जगहों पर जाकर लूट पाट की घटना को अंजाम देते थे। इस ऑपरेशन का नेतृत्व मीशन ओपी प्रभारी अनील कुमार सिंह ने किया। ट्रक ड्राइवर की सतर्कता से धराये अपराधी जानकारी देते हुए थाना प्रभारी विनोद कुमार झा तथा मीशन ओपी प्रभारी अनिल कुमार सिंह ने बताया की बीती रात्रि थाने में सड़क पर हो रहे लूट की जानकारी ट्रक ड्राइवर के द्वारा दिया गया। 
जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए बरबीघा-शेखपुरा पथ पर नाकेबंदी करवाते हुए मिर्जापुर की तरफ रवाना हुई। पुलिस को आता देख अपराधी बरबीघा की ओर अपने साथ लाए टाटा सुमो गोल्ड से भागने लगे। पुलिस भी पीछा करने लगी। नाकेबंदी में लगे कंचनबाग हटिया मोड़ तथा मिशन ओपी के बैरिकेटिग को फिल्मी स्टाइल में अपरधियों ने तोड़ते हुए गाड़ी बिहारशरीफ की ओर लेकर भगाने लगे। पुलिस को चकमा देने के लिए भाग रहे अपरधियों ने चलती गाड़ी से कभी कंबल तो कभी कपड़ा पुलिस गाड़ी के ऊपर फेंका अंतत: बेनार मोड़ के पास लगे ट्रक के जाम में अपराधियों का गाड़ी फंस गया और बरबीघा पुलिस के द्वारा उन्हें पकड़ लिया गया। 

चार अपरधियों में एक अपराधी भागने में सफल रहा। पकड़े गए लुटेरों की पहचान पटना जिले के फतुहा थाना के गौरीपुन्दा निवासी संतोष कुमार पांडे, नालंदा जिले के नगरनौसा थाना निवासी मोहद्दीपुर निवासी पवन कुमार, नालंदा जिले के तेल्हाड़ा थाना के जफरपुर निवासी अशोक कुमार यादव के रूप में की गई है। बीती रात्रि सिगरेट पीने की मंसा से लुटेरों ने शेखोपुरसराय में एक गुमटी में ताला तोड़कर कुरकुरे, सिगरेट, चॉकलेट नगदी वैगरह भी चुरा लिया। उक्त चोरी गया समान भी अपराधियों की गाड़ी से बरामद कर लिया गया है। 

इधर फोन पर पुलिस को सूचित करने वाले पीड़ित ट्रक ड्राइवर अठमलगोला निवासी विकास कुमार ने बताया कि सड़क पर हो रही लूट की घटना की जानकारी अपने पीछे आ रहे अपनी ही कंपनी के गाड़ी के ड्राइवर को दिया। वैशाली निवासी दिलीप कुमार ने बताया की उनको जानकरी मिलते मिलते वो घटना सथल पर पहुंच चुके थे पर लुटरे से बचने के लिए गाड़ी छोड़कर भाग गए और अपने मोबाइल से 100 नम्बर डायल कर पुलिस को हो रहे इस लूट की जानकारी दे दिया । इधर लुटरे ने ट्रक ड्राइवरों के साथ मारपीट करते हुए दिलीप कुमार के ट्रक पर चढ़ गए किसी को न पाकर गाड़ी को बुरी तरह से छति ग्रस्त कर दिया है तथा केबिन में रखे पैसे तथा गाड़ी की बैटरी तक खोल लिया। ये सभी समान अपरधियों के गाड़ी से बरामद कर लिया गया है।