हेल्पलाइन नंबर पर आए पहले ही कॉल ने उड़ाए होश, नाना ने ही अपने नातिन के साथ किया ऐसा...

हैदराबाद में गैंग रेप के बाद पीड़िता को जला देने की घटना से सबक लेते हुए यहां के NGO ने सोशल मीडिया पर अपना नंबर जारी किया था। इसमें अपील की गई थी कि जब भी उन्हें मदद की जरूरत पड़े, वे कॉल करें। लेकिन पहले ही कॉल ने NGO को चौंका दिया। यह कॉल किया था एक मानसिक विक्षिप्त युवती की पड़ोसिन ने। उसनक बताया कि युवती के साथ उसका 65 साल का नाना लंबे समय से रेप कर रहा है। 
NGO की मदद से पुलिस ने युवती का रेस्क्यू किया। जब उसका मेडिकल कराया गया, तो सबके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। युवती 6 महीने के गर्भ से थी। मामला गोबरा नवापारा थाना इलाके के पारागांव से जुड़ा हुआ है। 'फर्ज' संस्था के नितिन राजपूत ने बताया कि हैदराबाद की घटना के बाद उन्होंने बुधवार को ही सोशल मीडिया पर संस्था का मोबाइल नंबर जारी किया था। इसमें महिलाओं से अपील की गई थी कि वे मुसीबत के वक्त इस नंबर पर कॉल कर सकती हैं। 
इस बीच सबसे पहला कॉल इस पीड़ित की पड़ोसिन का कॉल आया। मौसमी सिंह ने फोन पर बताया कि पीड़िता का उसका नाना शारीरिक शोषण कर रहा है। यह बात पीड़िता ने उसे स्वयं बताई है। इसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी रामू साहू को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पीड़िता का सौतेला नाना है। पीड़िता के परिजन उसे अपने साथ रखने को तैयार नहीं हुए। इसके बाद युवती को सखी सेंटर भेज दिया गया। पुलिस की गिरफ्त में आते ही आरोपी अपनी गलती मान बैठा।