शादियों में लुटेरी दुल्हनों के किस्से तो आपने बहुत सुने होंगे लेकिन इस बीच एक ऐसा केस सामने आया है कि जब लुटेरी दुल्हन के चंगुल में फंसने से ठीक पहले पुलिस मौके पर जा पहुंची। उसके बाद दुल्हन और उसकी गैंग को दबोच लिया। पूछताछ में पूरी गैंग ने चार राज्यों में दस से भी ज्यादा वारदातें कबूल की हैं। अन्य के बारे में पूछताछ की जा रही है। घटना जालोर जिले की है और कार्रवाई करने जोधपुर पुलिस जालोर पहुंची थी।
दरअसल जोधपुर की प्रताप नगर पुलिस को सूचना मिली थी कि जोधपुर में जिस लुटेरी दुल्हन ने कई वारदातें की और फरार हो गई वह दुल्हन अब जालोर जा पहुंची। पुलिस को पता लगा कि जालोर में स्नेहा दूसरी शादी रचा रही है। वहां पता करने पर सामने आया कि जालोर स्थित कृष्णा होटल में वह कुशाल नाहटा नाम के एक युवक के साथ दूसरी शादी कर रही है। ऐसी में प्रताप नगर थानाधिकारी और उनकी टीम वहां पर बाराती बनकर जा पहुंचे। उसके बाद फेरों से कुछ देर पहले लुटेरी दुल्हन स्नेहा, राजेंद्र चौपड़ा व सचिन गायकवाड़ को गिरफ्तार किया।

थानाधिकारी ने बताया कि शादी के नाम पर लूट करने वाली ये गैंग पहले धनी परिवार की तलाश करती है। फिर उस परिवार में जो शादीशुदा नहीं है, उसकी तलाश करती और परिवार से संपर्क करती है। शादी से पहले स्नेहा की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के नाम पर परिवार से पहले रुपए ऐंठ लेते, फिर शादी के समय और शादी के बाद स्नेहा मौका देख जेवरात व नकदी ले भाग जाती थी। पूछताछ में गैंग ने धोखे से 10 से अधिक शादियां करा रुपए ऐंठना स्वीकार किया। गैंग ने राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश में ऐसे परिवारों को राडार पर लिया हुआ था।