ऐसा कहा जाता है कि प्यार अंधा होता है. इसी कहावत को चरितार्थ करते हुए एक युवती ने फरारी काट रहे नामी अपराधी से प्रेम विवाह किया.बाद में वही प्रेमी किलर पति बन गया और युवती की हत्या कर दी.दोनों ने विवाह करते वक्त तो 7 जन्मों तक एक दूसरे का साथ निभाने का वादा किया था, लेकिन शादी के मात्र 7 महीने में ही पति ने पत्नी की हत्या कर दी.उसके बाद से ही वह फरारी काट रहा था. इस घटना के करीब एक साल बाद हत्यारे पति को जीआरपी पुलिस ने राजस्थान के चित्तौड़ से गिरफ्तार कर लिया है.

फरारी काट रहे अपराधी की जानलेवा प्रेम कहानी
मामला 2018 का है.रतलाम के नामी गुंडों की लिस्ट में शामिल युवक विकास टांक जिले के लक्ष्मणपुरा का निवासी है. वह हत्या के प्रयास के मामले में नामजद था और फरार चल रहा था. फरारी काटने के दौरान आरोपी विकास टांकराजस्थान के नाथद्वारा में रहा था. नाथद्वारा की ही रहने वाली युवती ऐश्वर्या से उसकी दोस्ती हुई. दोनों की यह दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई. साल 2018 के अप्रैल महीने में ऐश्वर्या और विकास ने प्रेम विवाह कर लिया. इसके बाद दोनों रतलाम आ गए.शादी के कुछ ही दिन बाद दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया.

साल 2018 के नवंबर में ऐश्वर्या को गंभीर रूप से घायल हालात में रतलाम जिला चिकित्सालय लाया गया. बताया गया कि सीढ़ियों से गिरने के कारण ऐश्वर्या को यह गंभीर चोट आई है. डॉक्टरों ने यहां से उसे इंदौर रेफर कर दिया गया.इंदौर में 23 नवम्बर, 2018 को ऐश्वर्या की इलाज के दौरान मौत हो गई. पुलिस जांच में सामने आया की मृतिका ऐश्वर्या की मौत सीढ़ियों से गिरकर नहीं बल्कि मारने-पीटने में आई गंभीर चोट के कारण हुई थी. इसके बाद पुलिस ने मामले की तह में जाना शुरू किया. पुलिस जांच में पता चला कि पति विकास ने ही अपनी पत्नी ऐश्वर्या को बेरहमी से मारा था, जिसके कारण उसे गंभीर चोटें आई थीं. इन्हीं चोटों के कारण ऐश्वर्या की इलाज के दौरान मौत हो गई थी. पुलिस ने आरोपी पति विकास और उसके परिवार के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया. इसके बाद आरोपी विकास एक बार फिर फरार हो गया. वहीं उसकी मां और भाई को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

प्रेम विवाह के बाद लड़की से करता था दहेज की मांग
दरअसल, पुलिस की जांच-पड़ताल में सामने आया कि आरोपी पति विकास अपनी पत्नी ऐश्वर्या से रुपयों की मांग करता था. वहीं आरोपी विकास की मां और भाई भी ऐश्वर्या से दहेज की मांग कर उसे प्रताड़ित करते थे. इसी बात को लेकर विकास ने  ऐश्वर्या को बेरहमी से पीटा, जिससे वह कोमा में चली गई. आरोपी विकास की मां व भाई ने ऐश्वर्या को रतलाम जिला अस्पताल  पहुंचाया. इन दोनों ने डॉक्टरों को झूठ बताया कि ऐश्वर्या सीढ़ियों से गिरने के कारण घायल हुई है. 

जीआरपी थाने के एसआई संतोष केरकेट्टा ने इस मामले में एक अन्य जानकारी दी. उन्होंने बताया कि आरोपी विकास टांक की पहले भी एक शादी हो चुकी थी. लेकिन उसकी पहली पत्नी को जब अपने पति के कारनामों और ऐश्वर्या से उसके अफेयर के बारे में पता चला तो उसने तलाक दे दिया. ऐश्वर्या ने अपने परिवार की मर्जी के खिलाफ जाकर विकार से प्रेम विवाह किया था. इसके कारण ऐश्वर्या की अपने परिजनों से बातचीत भी बंद हो गई थी. ऐश्वर्या संपन्न परिवार की लड़की थी. उसके घरवालों की आर्थिक हालात ठीक थी. इसीलिए विकास ने उसे अपने प्रेम जाल में फंसाया और शादी की. शादी के बाद विकास और उसके परिवार वाने ऐश्वर्या से दहेज मांगने लगे.