जगदलपुर के सनसिटी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के पास एक मकान में रहने वाले पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी गोपाल कृष्ण नायडू का शव संदिग्ध हालत में मिला है। फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम मौके पर जांच के लिए पहुंची है। उक्त मामले में प्रथम दृष्टया पुलिस नेे आत्महत्या की आशंका जताई है।
कोतवाली थाना प्रभारी ने बताया कि उक्त मामले की सूचना मिलने के बाद तत्काल पुलिस गोपाल कृष्ण नायडू के मकान पहुंची। यहां पर युवक का शव जमीन पर पड़ा हुआ था। सिर पर चोट लगने से खून फर्श में फैला हुआ था। इसके पास ही एक कूर्सी उल्टी पड़ी थी और पंंखे में कपड़े का फंदा लटका हुआ था। संभवत: युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या की थी और तीन दिन तक शव का भार नहीं उठा पाने की वजह से फंदा खुल गया। 

जिससे शव जमीन पर गिर गया। सिर के बल गिरने से खून बहता रहा। मौत की वजह पता लगाने फोरेंसिक एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है। मामला आत्महत्या का है यह हत्या का इसका खुलासा पीएम रिपोर्ट से ही स्पष्ट हो पाएगा। फिलहाल पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पीएम करवाने डिमरापाल मेडिकल कॉलेज शिफ्ट किया है।