रविवार की सुबह कोहरा तथा भीषण ठंड के बीच शेखपुरा मंडल जेल में जिला प्रशासन ने छापेमारी की। यह छापेमारी लगभग ढ़ाई घंटे तक चली। हालांकि इस कार्रवाई में प्रशासन का समूचा अमला को जेल के भीतर से कोई आपत्तीजनक सामान हाथ नहीं लगा। इस छापेमारी का नेतृत्व एडीएम सत्यप्रकाश शर्मा ने किया। इस कार्रवाई में बड़ी संख्या में पुलिस बल के जवानों को भी लगाया गया था। यह छापेमारी दो दिन पहले हाजीपुर जेल में एक कैदी की हत्या के मद्देनजर एहतियात के तौर पर की गई। 
छापेमारी के बाद एडीएम सत्यप्रकाश शर्मा ने बताया बिना किसी पूर्व सूचना के की गई इस कार्रवाई में जेल के भीतर सभी कैदी वार्डों की गहन तालाशी ली गई। मगर किसी भी कैदी वार्ड से कोई आपत्तीजनक या प्रतिबंधित सामान नहीं मिला। इधर रविवार की सुबह-सुबह जेल में छापेमारी की सूचना से समूचे शहर तथा प्रशासनिक हल्कों में चर्चाओं का बाजार गरम हो गया। सुबह में चाय की दुकानों पर लोग इसी चर्चा में जुटे रहे कि जेल में छापेमारी की कार्रवाई में क्या हुआ। 

बाद में आधिकारिक जानकारी में एडीएम ने बताया छापेमारी करके सघन तालाशी ली गई,मगर कुछ मिला नहीं। इस छापेमारी के दौरान एडीएम ने जेल की भीतरी तथा बाहरी सुरक्षा को लेकर जेल अधीक्षक एवं जेलर से आवश्यक जानकारी भी ली। हाजीपुर जेल में एक कैदी की हत्या के मद्देनजर जेल प्रशासन से विशेष निगरानी तथा सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है। खासकर मुलाकतियों की गहन जांच-पड़ताल का निर्देश दिया गया है। जेल में बाहरी समानों की इंट्री में भी पूरी जांच-पड़ताल का निर्देश दिया गया है।