अभी कुछ ही दिन पहले जुर्म का एक मामला उत्तराखंड के किच्छा में ग्राम भंगा से सामने आया है। यहां जीवन बिताने वाले एक युवक पर उसके सगे भांजे ने मामी से एकतरफा प्यार के चलते एसिड डाल दिया था जिससे पीड़ित 23 साल के युवक की हल्द्वानी के एसटीएच में पिछले बुधवार तड़के इलाज के दौरान मृत्यु हो गई है।
इस मामले में पुलिस ने आरोपी भांजे को वारदात के 9 दिन के पश्चात ही गिरफ्तार किया व अदालत में पेश किया, जहां से उसे जेल में डाल दिया गया है। मामले में प्राप्त सूचना की माने तो, पुलभटटा के एसआई प्रकाश भटट के मुताबिक, ''ग्राम भंगा के रहने वाले युवक ने शिकायत देकर बताया था कि उसके भाई पर 30 अक्टूबर की रात अज्ञात शख्स ने तेजाब डाल दिया, जिससे भाई बुरी तरह झुलस गया था। पुलिस की प्राथमिक पड़ताल में पीड़ित के भांजे का नाम समक्ष आया।'' आगे उन्होंने बोला कि, ''पूछताछ में आरोपी ने कहा कि वह अपने मामा की पत्नी से एकतरफा प्रेम करता था। 
इसी वजह से उसने इस वारदात को अंजाम दिया।'' मामले में भांजे ने आगे जानकारी दी कि, 'एसिड अटैक करने के पीछे उसका उद्देश्य मामा को बदसूरत करना था जिससे मामी उसके साथ बस जाए, किन्तु वो उन्हें मारना नहीं चाहता था। आरोपी भांजे को 9 नवंबर को अदालत में पेश किया, जहां से उसे जेल भेजा जा चुका है एवं उसके विरुद्ध धारा 326ए के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया था जो पीड़ित की मृत्यु के पश्चात 302 में संशोधन किया जाएगा।