सिर्फ चंद रुपयों के खातिर ससुराल वालों ने कर दिया ऐसा गलत काम, जानिए

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ दहेज लोभियों को लेकर महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा को लेकर कितने ही दावे कियो ना करें सब खोखले साबित हो रहे है. ताजा मामला जनपद एटा जनपद से है, जहाँ दहेज की खातिर दहेज लोभी ससुरालीजनों ने उसकी जहरीला पदार्थ खिलाकर उसकी हत्या कर दी। वही मुल्क के आलाकमान मोदी जी या योगी जी लाख बेटी बचाओ वेटी पढ़ाओ का सपना साकार करने की कोशिश क्यों न कर रहे हों पर ऐसे दहेज लोभी दहेज की खातिर विवाहिताओं की लगातार हत्याएं कर रहे है।
वही सरकारें कठोर कानून बनालें, पर समाज में फैली अराजकता, और गंदी मानसिकता व नारी को भोग की वस्तु समझने वाले दुष्ट प्रवर्ति के लोग जब तक जागरूक नही होंगे, हर रोज कोई न कोई बेटी दहेज की आग की भेंट चढ़कर अपने जीवन की आहुति देती रहेगी, अलीगंज कोतवाली क्षेत्र के ग्राम ढिबैया अख्तयार पुर मैं 22 वर्षीय विवाहिता आरती पुत्री ज़वाहरलाल निवासी थाना शमशाबाद जनपद फर्रुखाबाद की शादी 10 माह पूर्व आलोक पुत्र मुन्नालाल के साथ की थी,ससुरालिजनों की चारपहिया कहाँ की दहेज की मांग पूरी न करने पर उसकी ज़हर देकर हत्या कर दी गई।

वही पुलिस शव को कब्जे में लेकर पाँचों दहेज लोभी ससुरालीजन पति आलोक,सास गंगारानी,ससुर मुन्नालाल,और दो देवर आदेश और आमोद के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज कर कार्यवाही की बात कही जा रही है। वही आपको बता दें कि ये पूरा मामला थाना कोतवाली अलीगंज क्षेत्र के ढिबैया अख्तयार पुर का है. जहा दहेज की खातिर एक 22 वर्षीय विवाहिता आरती की ज़हर देकर हत्या करना और परिजनों का आरोप है कि दहेज को लेकर उनकी बेटी की हत्या की गई, वही बलि चढ़ी वेटी के पीडित परिजनों ने दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है।
वही सूचना पर मौके पर पहुंची इलाका पुलिस के आगे हाथ जोड़े खड़े पिता जवाहरलाल ने न्याय की गुहार लगाई है, और पीड़ित पिता ने रोते हुए कहा कि””अगले जन्म मोहें बिटिया ना दीजों”” इस कथन पर गिड़गिड़ाते एक पीड़ित बेटी के पिता ने दहेज लोभियों को कड़ी सजा की मांग करते हुए गुहार जिले के एसएसपी और वरिष्ठ अधिकारियों से माँग की है। वही चिकित्सकों ने विवाहिता की ज़हरीले पदार्थ के सेवन से मौत होने की आशंका जताई है.पुलिस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की बजह पता चलने की बात कहते नजर आ रहे है ।