कानपुर के घाटमपुर के मूसानगर रोड के चौराहे पर चाय की दुकान में चुस्कियां ले रहे लोगों की ओर मौत बनकर आए ट्रक ने दो लोगों की जान ले ली। राहा चौराहे पर एक बेकाबू ट्रक चाय की दुकान में जा घुसा। घटना के वक्त दुकान में बैठे लोग भाग निकले लेकिन दो लोग चपेट में आकर बुरी तरह घायल हो गए। दोनों को सीएचसी पहुंचाया गया मगर हालत गंभीर पाए जाने पर उन्हें हैलट रेफर कर दिया गया। शाम तक दोनों की मौत हो गई। घटना के मुताबिक राहा निवासी कल्लू यादव चौराहे पर स्थित अपनी चाय की दुकान पर थे। 
उस समय दुकान में चाय पीने वाले करीब आधा दर्जन लोग बैठे थे। इसी बीच घाटमपुर की ओर से भोगनीपुर की ओर कोयला लेकर जा रहा ट्रेलर बेकाबू हो गया। दुकान को तोड़ता हुआ ट्रेलर शीशम के पेड़ से टकरा गया। बेकाबू ट्रेलर देख मौके पर भगदड़ मच गई। दुकान में मौजूद राहा निवासी विमल (55) और ईश्वरनारायण उर्फ गोविन्द (17) ट्रक की चपेट में आ गए और दुकान धरासाई हो गई और मलबे के नीचे दोनों दब गए। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों को मलबे से बाहर निकालकर घाटमपुर सीएचसी में भर्ती कराया। हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने दोनों को हैलेट रेफर कर दिया।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के दौरान दोपहर करीब एक बजे गोविंद ने दम तोड़ दिया था दो घंटे बाद विमल की भी हैलेट में मौत हो गई। इंस्पेक्टर ज्ञानसिंह ने बताया कि ट्रक को कब्जे में लेकर चालक की तलाश की जा रही है। परिजन तहरीर देंगे तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा। घटना के वक्त दुकान में कई लोग बैठकर चाय पी रहे थे। ट्रेलर के बेकाबू होते दुकान में मौजूद लोग भाग निकले लेकिन विमल और ईश्वरनारायण उर्फ गोविन्द ट्रेलर की चपेट में आ गए। भागने में जरा सी चूक नहीं किए होते तो दोनों की जान बच जाती।