देखने के बाद पसंद नहीं आई, इसलिए अपना पीछा छुड़ाने के लिए मार डाला!!

फेसबुक पर तीन दिन पहले हेमंत लांबा से हुई जानपहचान और फिर उसके प्यार में पड़ना युवती की मौत का कारण बन गया। दरअसल, जब दोनों की मुलाकात हुई तो हेमंत को युवती पसंद नहीं आई। पुलिस सूत्रों के अनुसार, छुटकारा पाने के लिए ही हेमंत ने उसकी हत्या की और बचने के लिए कैब चालक को भी मार दिया। पुलिस ने हेमंत से वारदात में इस्तेमाल की गई पिस्तौल, 4 जिंदा कारतूस और इनोवा बरामद की है। रेवाड़ी पुलिस ने गुरुवार को उसे अदालत में पेश कर 6 दिन के रिमांड पर लिया है। तीन महीने पहले युवती की फेसबुक पर दिल्ली निवासी हेमंत लांबा से दोस्ती हुई। जब दोनों मिले तो पहली नजर में हेमंत को युवती पसंद नहीं आई। अब वह उससे छुटकारा पाना चाहता था, लेकिन युवती उसे किसी भी कीमत पर पाना चाहती थी। वहीं हेमंत ने उसे इग्नोर करना शुरू कर दिया, जिससे वह डिप्रेशन में रहने लगी। वहीं हेमंत ने युवती से पीछा छुड़ाने के लिए प्लान कर लिया।
6 दिसंबर को युवती हेमंत के साथ उसकी इनोवा से निकली। पूरे दिन दोनों दिल्ली में ही घूमते रहे। अंधेरा होने पर हेमंत गुड़गांव की ओर चल दिया। रास्ते में बिना कुछ कहे हेमंत ने तीन गोलियां मारकर उसकी हत्या कर दी और फिर शव को धारूहेड़ा स्थित नंदरामपुर बास रोड पर रामनगर के पास फेंककर दिल्ली चला गया। लड़की का मोबाइल फोन उसके पास ही था। खबर सोशल मीडिया पर देखने पर हेमंत को यह समझते देर नहीं लगी कि पुलिस अब उस तक कभी भी पहुंच सकती है। वह कैब लेकर सूरत पहुंचा और कैब बेचने के लिए 8 लाख में सौदा तय किया, लेकिन डीलर को शक हो गया और इसके बाद ही हेमंत पुलिस की गिरफ्त में आया।

हेमंत के दिमाग में एक और प्लान चल रहा था। उसने लड़की के मोबाइल फोन से ही ओला कैब बुक की, जिसका चालक दिल्ली निवासी था। यह कैब दिल्ली से जयपुर के लिए बुक की गई थी। हेमंत उसके साथ जयपुर की ओर निकल पड़ा। लड़की के मोबाइल से कैब बुक कराना ही उसके लिए खतरा बन गया। यह बात हेमंत को बाद में समझ आई। इस राज को दफन करने के लिए उसने अब चालक देवेंद्र को ही मौत की नींद सुलाने का फैसला लिया। जयपुर के हाइवे पर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और उसकी कैब लेकर फरार हो गया।