सोशल साइट पर प्यार परवान चढ़ने के बाद परिवार वालों के लाख समझाने के बाद भी बगावत करके युवती ने गैर धर्म के युवक से निकाह किया। लेकिन उसे क्या पता था कि जिसके साथ वो अपना वो अपना घर.बार छोड़कर जीवन न्योछावर कर रही है, वो ही उसकी ह्त्या कर देगा। कुछ ऐसा ही हुआ आजमगढ़ की सीता उर्फ नेहा के साथ। प्रेमी पति ने ससुराल ले जाने के बहाने उसे रास्ते में ही हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया। हत्यारोपी पति शहनवाज ने पुलिस को बताया कि बताया कि सोशल साइट पर उसकी मुलाकात सीता से हुई थी। बातचीत के दौरान दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा। 
वो उससे मिलने आजमगढ़ भी गया था,जहां उसके घरवालों से भी मिला था। 23 जून 2019 को उसने अंबेडकरपुरम के बसखारी में सीता से निकाह किया था। वह पहले से शादीशुदा था लेकिन सीता को बताया था कि पहली पत्नी को तलाक दे चुका है। अक्टूबर में सीता को कानपुर लाने के बाद किराये के मकान में रखा था। यहां आने के बाद सीता लगातार ससुराल जाने की जिद कर रही थी। परेशान होकर उसने जाजमऊ सरैया बाजार निवासी बहनोई आमिर खान से मदद मांगी। 26 तारीख को गंगा बैराज लाकर आमिर व उसके दो दोस्तों की मदद से गला कसकर सीता की हत्या कर शव फेंक दिया था।

निकाह करने के बाद दोनों ने कर लिया था कोर्ट मैरिज  
मृतका के पिता जवाहिरी ने पुलिस को बताया था कि सीता का कानपुर के शहनवाज से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसकी जानकारी के बाद उन्होंने बेटी को समझाया था कि युवक दूसरे धर्म से हैं लेकिन वह नहीं मानी। शहनवाज ने सीता से निकाह करने के बाद कोर्ट मैरिज भी की थी। इसके बाद वह उसे कानपुर लेकर चला गया था।