स्मार्ट सिटी में विकास करने का दम भरने वाले जिम्मेदारों को जब हिन्दुस्तान ने आईना दिखाया तो अवकाश के बावजूद भी इंजीनियरों का अमला सिस्टम सुधारने दौड़ पड़ा। शहामतगंज चौराहे स्थित निर्माणाधीन नाले का काम रोक दिया गया और नाला अब पीछे की तरफ फिर से बनाया जाएगा। मेयर और नगरायुक्त के डर से इंजीनियरों ने ठेकेदार को जमकर फटकार लगाई है। छह लाख की लागत से शहामतगंज चौराहे के पास नाले का निर्माण नगर निगम करा रहा था। 
शनिवार के अंक में हिन्दुस्तान ने बालू से बना रहे थे नाला बारिश ने खोल दी पोल शीर्षक से खबर प्रमुखता से प्रकाशित कर नगर निगम इंजीनियरों की कलाई खोल दी थी। खबर के बाद नगर निगम के इंजीनियर अवकाश होने पर भी मौके पर दौड़ पड़े। इंजीनियरों ने ठेकेदार को फटकारा ठेकेदार को इंजीनियरों ने फटकार लगाई। निर्माण कार्य रोक दिया गया है। क्षेत्रीय पार्षद राजेश अग्रवाल ने बताया कि नाला निर्माण में घटिया सामग्री लगाई जा रही है। हिन्दुस्तान ने सच का आईना जिम्मेदारों को दिखाया है। शहामतगंज चौराहे के पास पहले से जाम की समस्या बनी रहती है। ऊपर से दुकानों से आठ फीट दूर नाला निर्माण कराय जा रहा था। अब निर्माण कार्य रोककर नाला फिर से पीछे से बनेगा।
Loading...