घर के सामान के बंटवारे को लेकर हुए विवाद के बाद जेठ ने महिला को डंडे से पीटकर मार डाला। बाद में वह डंडा फेंककर भाग गया। आरोपी भागकर गन्ने के खेत में छुप गया। पुलिस खोजी कुत्ते और ड्रोन से उसे तलाशती रही मगर वह नहीं मिला। उसका गमछा और चप्पलें ही गन्ने से बरामद हुई हैं। 
मृतका के पति ने आरोपी भाई के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है। कुंडरा गांव के नन्हू सिंह ने पुलिस को बताया कि बड़े भाई शिवचरन से घर के सामान के बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था। शनिवार को जब नन्हू सिंह गरगईया में ईंट भट्ठे पर मजदूरी करने गया था तो उनकी पत्नी चमेली देवी 35, दो छोटे बच्चों पवन और दीक्षा के साथ घर में थी। जबकि उनकी तीन बेटियां गुनगुन, रोशनी और अर्चना प्राइमरी स्कूल में पढ़ने गईं थीं। 
इसी बीच शिवचरन हाथ में डंडा लेकर घर में घुस आया और गालियां देने लगा। चमेली ने विरोध किया तो पीटकर मार डाला और डंडा वहीं छोड़कर भाग गया। सूचना पर कोतवाल गौरव सिंह फोर्स के साथ पहुंचे और हत्या में प्रयुक्त डंडा कब्जे में लेकर शव पोस्टमार्टम को भेज दिया। गन्ने के खेत में अरोपी छिपे होने की सूचना पर पुलिस ने खेत चारों ओर से घेर लिया। फील्ड यूनिट व डॉग स्क्वायड के अलावा ड्रोन कैमरे की मदद ली गई मगर कुछ भी पता नहीं चला।