शुक्रवार भोर को 3:00 बजे टोंटो के जामडीह गांव में भाई-भाभी के खून से होली खेलने वाले गिरफ्तार अभियुक्त मुरली लागुरी उर्फ चुन्दी लागुरी ने शनिवार को मेडिकल जांंच के लिए बोलेरो से सदर अस्पताल ले जाए जाने के दौरान सदर अस्पताल मुख्य गेट पर टोंटो थाना के एक हवलदार एवं सिपाही को भुजाली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया।
घायलों में 45 वर्षीय हवलदार दिलीप सोरेन और  35 वर्षीय जवान परितोष महतो शामिल है। घटना दोपहर करीब 2:00 बजे की है। अभियुक्त ने भाई-भाभी की हत्या में प्रयुक्त जब्त की गई भुजाली से ही घटना को अंजाम दिया। सदर अस्पताल में दोनों घायलों का प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल जवान परितोष महतो को बेहतर इलाज के लिए जमशेदपुर रेफर किया।
वहीं, हवलदार दिलीप सोरेन का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। आरोपित हवलदार के बाएं गर्दन में एवं जवान के दाएं गर्दन में भुजाली से वार कर गंभीर रूप से जख्मी करने के बाद बोलेरो का गेट खोल कर भागने का प्रयास कर रहा था लेकिन टोंटो थाना के एएसआई की सक्रियता से आरोपित को दबोच लिया गया। आरोपित ने दोनों पर हमला करने से पूर्व हथकड़ी की रस्सी को भी भुजाली से काट लिया था।