रात को प्रेमिका के घर पहुंचा प्रेमी, वहां पहले से मौजूद था दूसरा प्रेमी, जानिए फिर क्या हुआ....

कैंप थाना क्षेत्र के अंतर्गत तीन दिंसबर की रात को 27 वर्षीय युवक की चाकुओं से गोदकर की गई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में मृतक की प्रेमिका व उसके पूर्व प्रेमी को गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को पुलिस ने दोनों को अदालत में पेश किया जहां से आरोपी महिला को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया व आरोपी युवक को बरामदगी के लिए एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पलवल डीएसपी सुनिल काद्यान ने बताया कि गांव इंडरी निवासी योगेंद्र उर्फ सोनू की चाकूओं से गोदकर की गई हत्या के आरोप में आरोपी महिला पूनम निवासी खंडोह जिला अलीगढ़ यूपी जो इस्लामाबाद में किराए के मकान मे रहती है व उसके पूर्व प्रेमी योगेश उर्फ योगी निवासी गांव अटोहां को गिरफ्तार किया गया। 

पहले प्रेमी के जेल जाने के बाद मिला दूसरा प्रेमी
आरोपी योगेश उर्फ योगी के खिलाफ हत्या का मामला सात अप्रैल वर्ष 2019 को सदर थाना व जानलेवा हमला करने का दूसरा मामला 19 जून को कैंप थाना में दर्ज है जो कि फिलहाल जमानत पर आया हुआ था। योगेश के जेल जाने के बाद पूनम का संपर्क योगेंद्र उर्फ सोनू के साथ हो गया। गहन पूछताछ में आरोपी योगेश उर्फ योगी ने बताया कि उसने अपनी प्रेमिका पूनम के संबंध का शक किसी पर था, क्योंकि पूनम उसका फोन नहीं उठा रही थी। जिससे तीन दिसंबर को दिन में वह पूनम के पास पहुंचा तो दोनों के बीच सुलह हो गई। 

फोन नहीं उठाया तो प्रेमिका के घर पहुंचा प्रेमी
उसी रात योगेश उर्फ योगी ने फिर पूनम के पास फोन किया तो उसने फोन नहीं उठाया। योगेश रात के समय ही पूनम के किराए के कमरे पर पहुंचा तो और दरवाजा खटखटाया। लेकिन किसी ने दरवाजा नहीं खोला। योगेश दीवार फांदकर अंदर दाखिल हुआ तो उसने देखा पूनम व योगेंद्र उर्फ सोनू को एक कमरे में है और उसने योगेंद्र की छाती में चाकू से हमला कर दिया। जब योगेंद्र की मृत्यु हो गई तो योगेश व पूनम ने मिलकर उसके शव को स्कूटी पर रखा और प्रकाश कालोनी में खाली प्लाट में खड़ी झाडियों में फेंक दिया। पुलिस ने इस संबंध में मृतक के भाई रिंकू की शिकायत पर अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर गहन जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने शुक्रवार को दोनों को अदालत में पेश किया जहां से पूनम को तो न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया और योगेश उर्फ योगी को स्कूटी, चाकू व अन्य साक्ष्यों की बरामदगी के लिए एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।