प्रेमी के घर पहुंच लड़की ने किया हंगामा, बोली शादी करूंगी तो सिर्फ इस से, और फिर जो हुआ जानें....

फर्रुखाबाद में एक युवती शुक्रवार को अपने प्रेमी के यहां पहुंच गई। शनिवार सुबह उसके माता-पिता समेत अन्य परिजन भी वहां पहुंच गए। युवती को दबोच लिया और पीटने लगे। जब परिजन पीटते हुए उसे गली में ले आए, तो प्रेमी घर से भागकर ट्रेन की पटरी पर लेट गया। सूचना पर पहुंची यूपी-112 पुलिस युवक को थाने ले गई। कुछ देर में युवती और उसके परिजन भी थाने पहुंच गए।
घंटों चले मानमनौव्वल के बाद युवती के परिजन बैरंग लौट गए। कर्मचारी नेता थाने में डटे रहे। युवती प्रेमी के साथ ही विवाह करने की जिद पर अड़ी है। मऊदरवाजा थाना क्षेत्र के मोहल्ला भीकमपुरा निवासी युवक के घर कानपुर देहात के बिल्हौर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती शुक्रवार को पहुंच गई। शनिवार सुबह 10 बजे उसके माता-पिता व परिजन भा वहां जा पहुंचे।
उन्होंने युवती को समझाया, मगर वह नहीं मानी। इस पर युवती को पीटने लगे। जब वह उसे पीटते हुए खींचकर गली में ले आए, तो प्रेमी घर से निकल गया। पता चला कि वह ट्रेन की पटरी पर लेटा है। सूचना पर यूपी-112 पहुंची और युवक को लेकर थाने पहुंच गई। कुछ ही देर में युवती और उसके परिजन समेत बड़ी संख्या में लोग थाने में जमा हो गए। युवती के परिजनों का थाने में घंटों युवक व उसके परिजनों से विवाद होता रहा।
परिजनों के लाख समझाने पर भी युवती नहीं मानी। कार्यवाहक थानाध्यक्ष जेपी यादव के सामने भी मामला पहुंचा, मगर युवती परिजनों के साथ जाने को तैयार नहीं हुई। इस दौरान सफाई कर्मचारी नेता हरिओम वाल्मीकि समेत अन्य लोग भी थाने में डटे रहे। परिजनों के जाने के बाद युवती ने थानाध्यक्ष को बताया कि यदि वह परिजनों के साथ चली गई, तो वह उसकी हत्या कर देंगे।
प्रेमी बोला कि यदि युवती को कुछ हुआ, तो वह भी अपना जीवन समाप्त कर देगा। प्रेमी युगल थाने से चले आए। प्रभारी थानाध्यक्ष जेपी यादव ने बताया कि दोनों बालिग हैं। पिता से उन्होंने बात की, मगर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। युवती हर हाल में प्रेमी संग रहना चाहती है। लिहाजा उसी के साथ भेज दिया गया। अब वह शादी करेंगे।