ऑस्ट्रेलिया आग पीड़ितों ने PM मॉरिसन से नहीं मिलाया हाथ, लोगों ने कहा "तुम मूर्ख हो"

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में पिछले 3 माह से आग ने तांडव मचारखा है। सितंबर 2019 से लगी आग में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है और सैंकड़ों घर राख हो चुके हैं। कोआला जैसे दुर्लभ जानवर हजारों की तादाद में आग की भेंट चढ़ चुके हैं। बेहतर कार्रवाई न करने को लेकर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की काफी आलोचना हो रही है।
घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचे मॉरिसन से गुस्साए पीड़ितों ने हाथ नहीं मिलाया। एक व्यक्ति ने कहा, ‘‘तुम्हें यहां से एक भी वोट नहीं मिलेगा, तुम मूर्ख हो।’’ मॉरिसन के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इसमें मॉरिसन पीड़ितों से जबरन हाथ मिलाते दिखे। एक युवती ने कहा- यहां लोग काफी परेशानियों का सामना कर रहे हैं। हमें और ज्यादा सहायता की जरूरत है। वहीं, प्रधानमंत्री ने कहा कि लोगों ने अपना घर खो दिया, वे काफी दुखी हैं। यह उसी का रिएक्शन है।
बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के करीब 1.2 एकड़ जंगल में फैली आग में अब तक 1400 से ज्यादा घर खत्म हो गए। 500 से ज्यादा लोगों को समुद्री जहाज द्वारा रेस्क्यू किया गया। अभी भी करीब 3 हजार पर्यटकों और 1 हजार स्थानीय लोगों के फंसे होने की आशंका है। यह आग ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स राज्य के तटीय इलाके में सबसे ज्यादा फैली है। यहां के सिडनी, माल्लाकूटा, वॉलेमी नेशनल पार्क, पोर्ट मैक्यूरी, न्यूकॉस्टल और ब्लूमाउंटेन्स इलाके के जंगलों में सबसे ज्यादा असर हुआ।
आगजनी के दौरान ही मॉरिसन अपने परिवार के साथ छुट्टी मनाने के लिए हवाई चले गए थे। सामाजिक कार्यकर्ताओं और फायर फाइटर्स के बढ़ते दबाव के बाद वे वापस आ गए थे। इसलिए लोग ज्यादा आक्रोशित हैं। सिडनी में आग के कारण तापमान 45° तक बढ़ गया था। न्यू साउथ वेल्स के अधिकारियों ने शहर में आपातकाल घोषित कर दी है।