धार्मिक और सार्वजनिक स्थलों पर जब आपके पास बेबस भाव से आकर हाथ फैलाता है तो आप उसे कुछ रुपये दे देते हैं। ऐसे बेबस लोगों ज्यादातर या तो अपाहिज या फिर किसी बीमारी पीड़ित दिखते हैं। मगर इस वीडियो को देखने के बाद अपाहिज भिखारियों को भीख देने से पहले सौ बार सोचेंगे।
महाकाल की नगरी उज्जैन से एक ऐसा ही वीडियो सामने आया है। जहां व्हीलचेयर पर बैठे एक अपाहिज भिखारी को पुलिस ने जब डंडा दिखाया तो वह दौड़ने लगा और बिल्कुल फिट था। यह वीडियो उज्जैन के रामघाट का है। जहां व्हीलचेयर पर एक अपाहिज लड़का बैठा हुआ था। एक युवक व्हीलचेयर को धक्का दे रहा था। अपाहिज हाथ फैलाकर लोगों से भीख मांग रहा था।
इस दौरान रामघाट पर तैनात पुलिसकर्मी को कुछ शक हुआ तो उसने शख्ती बरती। शख्त बरतने पर व्हीलचेयर को धक्का दे रहा युवक टूट गया। उसके बाद पुलिस ने युवक के पैर में बंधी हुई पट्टी को खोलने के लिए कहा। तब उसने कबूल कर लिया कि वह फिट है। कमाने खाने के लिए उसे अपाहिज की तरह बना दिया है।
इस बीच मौके पर मौजूद लोगों ने इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया। पुलिस ने युवक के पैर से पट्टी हटवाई तो वह बिलकुल फिट था। वह सिर्फ अपाहिज दिखने के लिए ऐसा किए हुए थे। पुलिस ने फिर उस युवक से दौड़ लगवाई। उसके बाद लोग हतप्रभ रह गए। रविवार का यह वीडियो अब सामने आया है। पुलिस ने दोनों युवकों को गिरफ्तार नहीं किया, उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया।