मोटरसाइकल दुर्घटना में जदयू नेत्री की हो गई मौत, परिजनों ने कर दिया सड़क जाम...

नवादा जिले के कादिरगंज मोड़ के निकट सड़क दुर्घटना में जदयू की अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ की पंचायत अध्यक्षा व पंचायत समिति सदस्य मुनसरी खातून की मौत हो गई। हालांकि मृतिका के परिजनों ने इसे सड़क दुर्घटना नहीं मानते हुए जदयू के महासचिव पर हत्या करवाने का आरोप लगाया है। मृतका के भाई मो.अहसान अंसारी ने कहा है कि पहले से भी धमकी दी गई थी। लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। भाई ने जदयू के महासचिव व 20 सूत्री के पूर्व सदस्य अवधेश महतो के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है। 
जिसकी गिरफ्तारी की मांग करते हुए गुरुवार को रोह कौआकोल पथ पर रोह बाजार में शव को रखकर सड़क जाम कर दिया। वहीं आरोपी बने अवधेश महतो ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कल यानि 12 फरवरी को हमारा सिविल कोर्ट में हाजिरी था। हम कोर्ट में हाजिरी देने गए हुए थे। हमें भी जानकारी मिली थी कि सड़क दुर्घटना में मौत हुई है, लेकिन राजनीति के तहत रातो रात हम पर हत्या का आरोप लगाकर फंसाया जा रहा है। जिला प्रशासन से हम मांग करते हैं कि इसकी जांच सही से की जाए।वहीं मृतिका के परिजनों द्वारा आरोपी अवधेश महतो की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आज सड़क जाम किया गया है। 

आपको बताते चलें कि रोह थाना क्षेत्र के पंचम गांव के रहने वाली व ओहरी के पंचायत समिति सदस्य अपने सहयोगी के साथ बाइक से नवादा से घर वापस जा रही थी। उसी दौरान वाहन ने पीछे से टक्कर मार दिया। इस घटना में वह गंभीर रुप से घायल हो गई। आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मामले की जानकारी मिलते ही सदर डीएसपी विजय कुमार अस्पताल पहुंचकर मामला की छानबीन की। वहीं कादिरगंजथाना प्रभारी ने बताया है कि अवधेश महतो सहित अज्ञात पर मामला दर्ज की गई है। गंभीरता के जांच की जाएगी।
Loading...