विदेशी मेहमान के इस काम से गिर गया हमारा मान, देखकर आपको भी आ जायेगा गुस्सा

राजस्थान के सीकर जिले के फतेहपुर में एक विदेशी नागरिक की तस्वीर ने शासन प्रशासन पर एक तरह से 'कचरे से कालिख' पोत दी है। तस्वीर प्रशासन की लापरवाही पर बेहद गंभीर सवाल भी खड़े कर रही है। विदेशियों के सामने देश की छवि भी धूमिल कर रही है। दरअसल, फतेहपुर में फ्रांस से आया एक विदेशी नागरिक नाली से कचरा साफ करता नजर आया। ताकि फतेहपुर की नादिन ली प्रिंस हवेली तक विदेशी पर्यटक पहुंच सके। इस तस्वीर को पत्रिका संवाददाता ने कैद कर लिया। हेरीटेज सिटी फतेहपुर से इस तरह की तस्वीर सामने आने से स्थानीय प्रशासन की भारी आलोचना हो रही है।
नाली से कचरा साफ करते जोयल से जब इस बारे में पूछा गया तो उसका कहना था कि यहां की हालत बहुत खराब है। नालियों में कचरा और प्लास्टिक भरा रहता है। विेदेशी पर्यटकों का यह सब पसंद नहीं है। कहा, कि यूरोप में हर आदमी काम करता है ऐसे में उसे काम से कोई आपत्ति नहीं है। फतेहपुर की हवेलियों को देखने अभी फ्रांस से सैलानियों का एक दल आया हुआ है। यह दल नादिन ली प्रिंस हवेली को देखने आया था। ऐसे में जब हवेली के बाहर नालियां कचरे से अटी और ओवर फ्लो होकर पानी सड़क पर आता दिखा तो फ्रांस के ही नागरिक जोयल ने एक लकड़ी हाथ में लेकर नाली से कचरा निकालना शुरू कर दिया। 

बतादें कि जोयल उस नादिन ली प्रिंस का बेटा है, जिन्होंने 2006 में फतेहपुर की यह हवेली खरीदी थी। तब से इस हवेली का नाम नादिन ली प्रिंस हवेली है। नादिन ली प्रिंस अब भी हवेली की सार संभाल करने हर साल यहां आती है। लेकिन, ज्यादातर जोयल ही हवेली की सार संभाल करते हैं। फ्रांस से आने वाले पर्यटक इस हवेली को देखने जरुर आते हैं और यहां कुछ वक्त भी बिताते हैं। हवेली की देखरेख व काम को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी नादिन ली की प्रशंसा कर चुकी है।
Loading...